टैक्स कितने प्रकार के होते है 2023 | भारत में करों के प्रकार
Spread the love

टैक्स कितने प्रकार के होते है – भारत में करों के प्रकार नमस्कार दोस्तों! आपका हमारे एक और नए ब्लॉग पोस्ट में स्वागत है। आज हम आपको इस लेख के माध्यम से टैक्स के बारे में बताएंगे, यानि कि कर क्या होता है और उसके विभिन्न प्रकार क्या होते हैं।

सबसे पहले, हमें समझना होगा कि कर क्या होता है। कर एक प्रकार की फाइनेंसियल योजना होती है जिसे सरकार अपने नागरिकों से जमा करती है और उसका उपयोग सामाजिक, आर्थिक, और विकास कार्यों के लिए करती है। यह सरकार के विभिन्न कार्यों को वित्तपोषण प्रदान करने में मदद करता है।टैक्स कितने प्रकार के होते है 2023




टैक्स कितने प्रकार के होते है 2023 टैक्स कई प्रकार के हो सकते हैं, और इनमें से कुछ प्रमुख हैं – आयकर (Income Tax), सामाजिक सुरक्षा कर (Social Security Tax), बिक्री कर (Sales Tax), वस्त्र कर (Excise Tax), मूल्य जोड़ कर (Value Added Tax), विरासत कर (Estate Tax), और आवास कर (Property Tax)।

हम सभी जानते हैं कि चाहे हम किसी भी देश में रहें, स्थानीय सरकार को किसी भी तरह के टैक्स का भुगतान करना होता है। टैक्स एक तरह की आवश्यकता है जिससे सरकार अपने विभिन्न प्रोजेक्ट्स और सेवाओं को चला सके।

इसलिए हम सभी को टैक्स के प्रकारों के बारे में जानकारी होनी चाहिए ताकि हम सही तरीके से टैक्स का भुगतान कर सकें। इस लेख में, हम आपको टैक्स के विभिन्न प्रकारों के बारे में जानकारी देंगे। अगर आप इस विषय में रुचि रखते हैं, तो कृपया इस लेख को अंत तक पढ़ें।

सबसे पहले हम जानते हैं कि टैक्स क्या होता है, ताकि हम इसके प्रकारों को समझ सकें।

टैक्स कितने प्रकार के होते है 2023 इन प्रकारों के बारे में और विस्तार से जानकारी प्राप्त करने के लिए, कृपया इस लेख को अंत तक पढ़ें।

Contents

टैक्स क्या है – What is Tax in Hindi (टैक्स कितने प्रकार के होते है 2023)

टैक्स कितने प्रकार के होते हैं” इस सवाल का उत्तर जानने से पहले हमें समझना होगा कि टैक्स कितने प्रकार के होते है 2023 , क्योंकि किसी भी चीज को हमें हमेशा पहले स्तर से जानना चाहिए।

टैक्स कितने प्रकार के होते है 2023 किसी राज्य द्वारा व्यक्तियों या विभिन्न संस्थाओं से सरकार द्वारा जो अधिभार या धन लिया जाता है, उसे कर या टैक्स कहते हैं। इस शब्द “टैक्स” को लेटिन शब्द “टैक्सों” से लिया गया है। टैक्स एक प्रकार का अनिवार्य शुल्क होता है, जिसका भुगतान हर व्यक्ति को करना होता है। अगर कोई व्यक्ति टैक्स भुगतान नहीं करता है, तो उसे कानूनी रूप से दंडित भी किया जा सकता है।


बता दें कि भारत के संविधान में सरकार को कर लगाने का अधिकार प्राप्त है, जिसे राज्य सरकार और केंद्र सरकार के माध्यम से हर व्यक्ति से लिया जाता है। सरकार करों के माध्यम से ही राजस्व जुटाती है और देश को चलाती है। चलिए अब भारत में टैक्स कितने प्रकार के होते है 2023  के बारे में जानते हैं।

Axis Bank में नौकरी कैसे प्राप्त करें 2023 

टैक्स कितने प्रकार के होते है 

टैक्स कितने प्रकार के होते है 2023 दोस्तों, चाहे व्यक्ति हो या कोई कंपनी, सभी को किसी न किसी रूप में सरकार को टैक्स देना ही होता है। तो चलिए अब दोस्तों भारत में विभिन्न प्रकार के करों पर नजर डालते हैं। यानी, टैक्स कितने प्रकार के होते है 2023 के बारे में जानते हैं।

टैक्स कितने प्रकार के होते है 2023 भारत में मुख्य रूप से टैक्स दो प्रकार के होते हैं – पहला है प्रत्यक्ष कर और दूसरा है अप्रत्यक्ष कर।

1.   प्रत्यक्ष कर (Direct Tax)

टैक्स कितने प्रकार के होते है 2023  जिस प्रकार के कर का भुगतान हम सीधे तौर पर सरकार को करते हैं, उसे प्रत्यक्ष कर कहते हैं। बता दें, दोस्तों, इस प्रकार के कर सीधे एक व्यक्ति पर लगाए जाते हैं, जिसके कारण इसमें कोई अलग व्यक्ति हस्तक्षेप नहीं कर सकता है, और यह टैक्स कितने प्रकार के होते है 2023  के करों का मिश्रण होता है।

टैक्स कितने प्रकार के होते है 2023 इसके मुख्य उदाहरण देखें, तो उनमें इनकम टैक्स, वेल्थ टैक्स, और सम्पति कर शामिल हैं। प्रत्यक्ष करों के भी कुछ प्रकार होते हैं, जैसे कि –

  • आयकर (Income Tax)

टैक्स कितने प्रकार के होते है 2023 आयकर एक ऐसा कर है, जिसे व्यवसायों और व्यक्तियों के अर्जित आय पर लगाया जाता है। टैक्स कितने प्रकार के होते है 2023 आयकर को प्रत्यक्ष कर का ही भाग कहा जाता है, क्योंकि आप इसे सीधे सरकार को भुगतान करते हैं। आयकर आपकी आय पर लगने वाला वह कर होता है, जिसे सैलरी, किराये की इनकम, या किसी व्यवसाय पर लगाया जाता है।

टैक्स कितने प्रकार के होते है 2023 इसके अलावा, यहां कुछ और उपयोगी शेयर टिप्स:

  1. सबसे ज्यादा डिविडेंड देने वाले शेयर: डिविडेंड का मार्केट में मूल्य होता है। टैक्स कितने प्रकार के होते है 2023 अगर आप डिविडेंड पर ध्यान केंद्रित करना चाहते हैं, तो कंपनियों के डिविडेंड देने का इतिहास और उनकी संगतता को जांचें।
  2. फंडामेंटल रूप से मजबूत शेयर: शेयर मार्केट में कंपनियों के फंडामेंटल्स का महत्वपूर्ण होता है। आपको उन कंपनियों को चुनना चाहिए जिनके आर्थिक स्थिति, उत्पादन, और प्रबंधन में मजबूती है।
  3. Best Low Price Shares To Buy In 2023: 2023 में निवेश के लिए सबसे अच्छे मूल्य वाले शेयर के बारे में जानकारी प्राप्त करने के लिए, आपको वित्तीय बाजार के विशेषज्ञों की सलाह लेनी चाहिए और विश्वसनीय स्रोतों की तलाश करनी चाहिए।
    • निगमित कर (Corporate Tax)

टैक्स कितने प्रकार के होते है 2023 इस टैक्स का आशय ऐसे कर से है जिसे बड़ी बड़ी कंपनियों के प्रॉफिट या इनकम में लगाया जाता है, और यह टैक्स कंपनी की ओर से दिया जाता है। बता दें कि पहले इस टैक्स की दर 30% थी, लेकिन वित्तीय वर्ष 2019-20 में इसकी दर को कम करके 22% कर दिया गया है।


टैक्स कितने प्रकार के होते है 2023 निगमित कर को और कुछ भागों में बांट गया है, जैसे:-

  1. अनुषंगी लाभ कर (फ्रिंज बेनिफिट्स कर)
  2. न्यूनतम वैकल्पिक कर (मिनिमम ऑल्टरनेट कर)
  3. लाभांश वितरण कर (डिविडेंड डिस्ट्रीब्यूशन कर)
  4. प्रतिभूति लेनदेन (सुरक्षा लेन-देन कर)

    ThopTV APK Download Latest Version v50.8.0 (2023)

  • संपत्ति कर (Property Tax)(टैक्स कितने प्रकार के होते है 2023)

संपत्ति कर एक प्रकार का कर होता है जिसे नगर पालिका अधिकारियों द्वारा संपत्ति के मालिकों पर लगाया जाता है। आमतौर पर, यह कर सभी प्रकार की संपत्तियों पर लागू होता है, जिसमें घर भी शामिल होता है। हालांकि, इस कर का प्रावधान उन जगहों पर नहीं होता है जिनके आसपास कोई निर्माण कार्य नहीं हुआ हो।

टैक्स कितने प्रकार के होते है 2023 संपत्ति कर अधिनियम 1951 में लागू किया गया था और इसका मुख्य उद्देश्य किसी व्यक्ति, हिन्दू एकीकृत परिवार (HUF), या कंपनी के शुद्ध संपत्ति से संबंधित कर धन का निर्धारण करना है। पहले, संपत्ति कर की गणना बहुत ही सरल थी:

टैक्स कितने प्रकार के होते है 2023  किसी व्यक्ति की शुद्ध संपत्ति 30 लाख रुपये से अधिक थी, तो उसको उस अधिक राशि का 1 प्रतिशत कर देना था। 2015 में घोषित बजट में, इस कर को समाप्त कर दिया गया था। इसके बाद, 30 लाख रुपये से अधिक की आय प्राप्त करने वाले व्यक्तियों पर 12 प्रतिशत का कर लगाया जाता है।

टैक्स कितने प्रकार के होते है 2023 1 करोड़ रुपये प्रति वर्ष का कर सरकार द्वारा लगाया जाने वाला है, और यह विशेष रूप से उन कंपनियों के लिए प्रासंगिक है जिन्होंने 1 करोड़ रुपये से अधिक की आय प्राप्त की है। 10 करोड़ रुपये प्रति वर्ष, नई दिशानिर्देशों ने सरकार द्वारा जमा किए जाने वाले कर से अलग कर दिया है।

टैक्स कितने प्रकार के होते है 2023 | भारत में करों के प्रकार

  • उपहार कर (Gift Tax)

टैक्स कितने प्रकार के होते है 2023 , इस टैक्स की शुरुआत 1 अप्रैल 1958 को की गई थी। यह एक प्रकार का प्रत्यक्ष कर है, जो मात्र जम्मू–कश्मीर को छोड़कर बाकी सभी राज्यों में लागू होता है। बता दें, इस कर को 25 हजार या इससे अधिक कीमत वाले उपहारों पर लगाया जाता है। हालांकि इसे 1998 में बंद कर दिया गया था, लेकिन इसे 2004 में फिर से चालू कर दिया गया है।

यह अधिनियम 1958 में प्रवर्तित किया गया था और यह सुनिश्चित करता था कि यदि किसी व्यक्ति को उपहार या उपहार, कीमती सामान या मौद्रिक प्राप्त होता है, तो उसे उन उपहारों पर कर देना होता था। पहले, उपर्युक्त उपहारों पर 30 प्रतिशत का कर लागू होता था, लेकिन यह कर 1998 में समाप्त कर दिया गया था।टैक्स कितने प्रकार के होते है 2023  प्रारंभ में, यदि कोई उपहार दिया गया था और यह कुछ हद तक शेयर, गहने, संपत्ति, आदि का रूप था, तो यह कर के अधीन था।




नए नियमों के मुताबिक, माता-पिता, पति-पत्नी, चाचा-चाची, बहन और भाई जैसे परिवार के सदस्यों द्वारा दिए गए उपहार पर कर नहीं लगता। यहां तक ​​कि स्थानीय अधिकारियों से आपको मिलने वाले उपहारों को भी ऐसे करों से छूट दी गई है। यदि छूट प्राप्त संस्थाओं के अलावा कोई व्यक्ति आपको कुछ भी प्रस्तुत करता है, जिसकी मूल्य 50,000 रुपये से अधिक है, तो पूरी उपहार राशि पर कर लागू होता है।

  • पूंजी लाभ कर (Capital Gain Tax) टैक्स कितने प्रकार के होते है 2023!

किसी भी प्रकार के संपति में निवेश करने, जैसे कि शेयर मार्केट, म्यूचुअल फंड, एसआईपी, आदि को बेचने पर कैपिटल गेन्स कर लगाया जाता है। यह कर भी दो प्रकार के होते हैं –

  • शार्ट टर्म कैपिटल गेन्स टैक्स (Short Term Capital Gains Tax): एक साल से कम समय में शेयर को बेचने पर जितना प्रॉफिट होता है, उसमें 15% की दर से शार्ट टर्म कैपिटल गेन्स टैक्स लागू होता है।
  • लॉन्ग टर्म कैपिटल गेन्स टैक्स (Long Term Capital Gains Tax): एक साल या इससे अधिक समय के बाद शेयर को बेचने से अगर 1 लाख से ज्यादा का प्रॉफिट होती है, तो उसमें 10% की दर से यह कर लागू होता है।

2.अप्रत्क्षय कर (Indirect Tax) टैक्स कितने प्रकार के होते है 2023

टैक्स कितने प्रकार के होते है 2023

अप्रत्यक्ष कर से आशय ऐसे कर से है जिसे लगभग सभी प्रकार के वस्तु और सेवाओं पर लगाया जाता है। यानी कि यह कर सीधे तौर पर किसी व्यक्ति के आय में लागू नहीं होता है। अप्रत्यक्ष कर टैक्स कितने प्रकार के होते हैं के लिस्ट में दूसरे स्थान पर आता है।

अगर अप्रत्यक्ष कर की बात की जाए तो जब कोई व्यक्ति मार्केट से किसी भी कीमत का समान खरीदता है, तो उस समान में टैक्स जुड़ा होता है, जिसे GST (Goods and Services Tax) के नाम से जानते हैं। इसके अलावा, अप्रत्यक्ष कर के और भी कई प्रकार होते हैं, जिनके बारे में विस्तार से नीचे दिया गया है।

GST भी दो प्रकार के होते है 

SGST (State Goods and Service Tax) और CGST (Central Goods and Services Tax) ये दोनों कर ही अप्रत्यक्ष कर के अंतर्गत शामिल होते हैं।

इसके अलावा, अप्रत्यक्ष कर के और भी कई प्रकार होते हैं, जिनके बारे में विस्तार से हमने नीचे दिया हुआ है।

सेवा कर (Service Tax) 

टैक्स कितने प्रकार के होते है 2023  यह एक ऐसा कर होता है जिसे लोगों को दी जाने वाली सेवाओं पर लगाया जाता है, और इस कर की भुगतान करने की जिम्मेदारी सेवा प्रदान करने वाले की होती है।टैक्स कितने प्रकार के होते है 2023  यह एक प्रकार का अप्रत्यक्ष कर होता है, क्योंकि सेवा प्रदान करने वाला व्यक्ति अपने व्यावसायिक लेन-देन करके सेवा प्राप्त करने वाले व्यक्ति से टैक्स वसूलता है।

  • उत्पाद शुल्क (Excise Duty)

टैक्स कितने प्रकार के होते है 2023 शुल्क एक अप्रत्यक्ष कर होता है, जो देश में उत्पादित होने वाले वस्तुओं पर लागू होता है। इसका मुख्य ध्यान वही वस्तुएँ होती हैं जिनकी मूल्य अधिक माना जाता है।

  • सीमा शुल्क (Custom Duty)

यह एक प्रकार का अप्रत्यक्ष कर होता है, जिसे सरकार द्वारा फिल्मों, टेलीविजन, प्रदर्शनियों, वेब सीरीज, आदि पर लगाया जाता है।

FAQs:

1.    भारत में कर कितने प्रकार के हैं?

भारत में कर 2 प्रकार के होते हैं – प्रत्यक्ष कर और अप्रत्यक्ष कर।

2.    जीएसटी कौन सा टैक्स है?

जीएसटी एक प्रकार का अप्रत्यक्ष कर, यानी Indirect Tax है, जो विनिर्माण से लेकर उपभोक्ता तक सेवाओं और वस्तुओं की आपूर्ति पर लगाया जाता है। इसका मतलब है कि हम कुछ सामान खरीदते समय उसमें GST शामिल होता है।

3.    सरकारें कर क्यों लगाती हैं? (टैक्स कितने प्रकार के होते है 2023) 

कर लगाने का पहला उद्देश्य कर द्वारा राजस्व उत्पन्न करना होता है। फिर इसके बाद प्राप्त धन को अन्य जगहों, जैसे सड़क और सार्वजनिक अवसंरचना पुनर्वास, आदि में प्रसारित किया जाता है।

4.    टैक्स नहीं देने पर क्या होता है?

जो कमाई कर रहा है और वह सरकार को टैक्स का भुगतान नहीं करता है, यह उनपर इनकम टैक्स एक्ट की धारा 276 सीसी (Section 276 CC) के तहत केस दर्ज किया जा सकता है।

Conclusion (टैक्स कितने प्रकार के होते है)

टैक्स कितने प्रकार के होते है 2023 इस आलेख के माध्यम से आपने जान लिया कि कर कितने प्रकार के होते हैं और कर क्या होता है।टैक्स कितने प्रकार के होते है 2023  हम उम्मीद करते हैं कि इससे आपको भारत में करों के प्रकार को समझने में मदद मिली होगी, और आपको यह समझ में आ गया होगा कि टैक्स कितने प्रकार के होते है 2023 | भारत में करों के प्रकार। हमने कोशिश की है कि इस विषय को सरल शब्दों में प्रस्तुत करें, लेकिन अगर आपके मन में कोई सवाल या संदेह है तो कृपया हमसे पूछें, हम आपकी सहायता करने के लिए यहाँ हैं।



टैक्स कितने प्रकार के होते है 2023 दोस्तों, भारत में जो करों के प्रकार हैं, वे देश के आर्थिक विकास के दृष्टि से बहुत महत्वपूर्ण हैं, और इनके माध्यम से सरकार विभिन्न क्षेत्रों में निवेश करती है। इसलिए, देश के विकास में यदि हमारी भूमिका होती है, तो हमें इन करों का सही तरीके से भुगतान करना चाहिए।

आपसे निवेदन है कि इस लेख को अपने सभी दोस्तों के साथ साझा करें ताकि उन्हें भी पता चल सके कि कर कितने प्रकार के होते हैं और उन्हें सही जानकारी मिले, और वे टैक्स चोरी नहीं करें, बल्कि उनका योगदान दें। हमारे इस लेख को 5 स्टार रेटिंग देने का कृपया करें। साथ ही, टैक्स कितने प्रकार के होते है 2023 इसी तरह की जानकारी के लिए हमारे साथ टेलीग्राम या व्हाट्सएप पर जुड़ें। धन्यवाद! हमेशा सीखते रहें

Similar Posts

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *