You are currently viewing SEO क्या है और कैसे करते हैं – What is SEO in Hindi

SEO क्या है और कैसे करते हैं – What is SEO in Hindi

” SEO क्या है और कैसे करते हैं – What is SEO in Hindi ” : हेलो दोस्तों आपका हमारी Website पर सुवागत है आज हम आपको Seo Kya Hai Aur Kaise Kare – What is SEO in Hindi के बारे मे बताने वाले है। तो दोस्तों अगर आप Seo Kya Hai Aur Kaise Kare – What is SEO in Hindi के बारे मे जानना चाहते है तो आप इस Article को पूरा जरूर पड़े |



SEO क्या है – What is SEO in Hindi?

SEO का पूरा नाम Search Engine Optimization है. ये एक ऐसी तकनीक जिसका इस्तेमाल करके वेबसाइट के पोस्ट को सर्च इंजन के पहले पेज पर No. #1 रैंक हासिल करते हैं. यह एक ऐसी तकनीक है जिसका इस्तेमाल करके हम अपने ब्लॉग पर लिखे हुए पोस्ट को ऑप्टिमाइज़ करते हैं जिससे की सर्च इंजन जैसे गूगल, बिंग, याहू के पहले पेज में टॉप पोजीशन में रैंक कराते हैं. आप इस पोस्ट को पढ़ रहे हैं क्यों की ये आप तक SEO की वजह से ही पहुंचा है. तो अब आप निश्चित हो जाएँ क्यों की आप बिलकुल सही जगह पर हैं.

मैं आपको इस तकनीक के बारे में हर जानकारी दूंगा. जिससे आपको हर वो इनफार्मेशन मिल जाएगी जो एसईओ से जुड़े हर सवाल का जवाब देगी जिसकी आप तलाश कर रहे हैं. शुरुआत में तो एक नए ब्लॉगर को इस के बारे में कोई आईडिया नहीं होता है. लेकिन धीरे धीरे नए ब्लॉगर को इस शब्द का महत्व पता चल जाता है और समझ में भी आ जाता है की सर्च इंजन ऑप्टिमाइजेशन के बिना ब्लॉग्गिंग करने से कोई फायदा है ही नहीं. अगर किसी ब्लॉगर को इस के बारे में जानकारी नहीं है तो फिर उस ब्लॉगर का ब्लॉग इंटरनेट में बस खोया हुआ रहेगा और लोगों तक पहुंचेगा ही नहीं.

SEO का full form  क्या है

  •  search engine optimization
  • सर्च इंजन ऑप्टिमाइजेशन

Search Engine क्या होता है

सबसे पहले आपके लिए यह जाना बहुत जरूरी है कि search engine क्या है। search engine एक ऐसा search engine एक ऐसा algorithm है जो हमारे द्वारा internet पर search की गई जानकारी की सही information देने का काम करता है इसके लिए वह अपने डेटा base में मौजूद जानकारी को fastly crawl, index और Rank देता है जिसे SERP (Search engine Result Page) कहते है। किसी भी Page को search Result में Top पर लाने के लिए SEO की बहुत बड़ी भूमिका होती है। google, Yahoo, Bing यह सब search engine है।

SERP– जब आप किसी भी सर्च engine में search करते है जैसे what is SEO Hindi उसके बाद जो list आती है उसे Search engine Result page यानी SERP कहते है। आज के समय मे google search engine सबसे ज्यादा popular है क्योंकि अगर हमे कुछ भी सर्च करना होता है तो हम google search engine का इस्तेमाल करते है। दुनिया मे 70 Percent लोग google का use करते है। क्या आप जानते है जब आप google पर कुछ भी search करते है तो google आपको best Result देने के लिए 200 factor का इस्तेमाल करता है जो article google के इन मापदंडों के अनुसार होता है वही आपको google के first page पर show होता है। जिसे आपको बिल्कुल सही जानकारी मिल सके।

Search Engine Kaise Kam Karta Hai ?

जैसे अगर आप search करते हो “what is SEO तो Search engine पहले से ही crawl और index की हुई Ranking list को आपके सामने ले आता है। जिसे search engine के bots और spider लगातार 24 hours crawl और index करके अपनी Ranking list बना लेते है। और जैसे ही आप कुछ सर्च करते है तो वह आपको search engine Result Page(SERP) पर दिखाई देती है।

वैसे तो सभी search engine के काम करने की अलग अलग technic होती है। लेकिन हर search engine तीन step में काम करता है।

  • Crawling
  • Indexing
  • Ranking

Crawling

क्रॉलिंग वह है जिसके जरिए Google अनलाईन पर नई – नई जानकारी खोजता है और उन्हे अपने कैटलॉग में जोड़ता है।

Indexing

एक बार Google को जब आपकी वेबसाइट अनलाईन पर लाईब मिल जाता है, तो वह आपके pages पर मौजुद content का विश्लेषण करता है ताकि उसे पता चल पाए कि आखिर आपकी content किस बारे मे और फिर उन्हे व्यवस्थित तरीके से अपने बिशाल कैटलॉग में शामिल करता है जिसे Indexing कहा जाता है।




जैसे, मान लिजिए कि, आपके पास एक वेबसाइट है जहां पर आप Digital marketing से जुड़े information और products बेचने काम करते हैं। तो आपकी वेबसाइट एकवार क्रॉल हो जाने के बाद, Google ये समझ जाता है कि आपकी वेबसाइट किस niche पर आधारित है और किस category के अंतर्गत आता है और उन्हे इसी कैटलॉग में जोड़ता है जहा पर ओर भी कोई सारे Digital marketing से संबंधित फ़ाइलें संग्रहीत हैं ताकि जब भी user इनसे संबंधित कोई सबाल पुछता है तो Google को उस सबाल का जबाव ढूंढने मे आसानि हो। Indexing मे SEO (search engine optimization) का बड़ी भुमिका होता है। आपका SEO जितना वेहतर होगा आपकि pages कि Indexing के लिए भी उसी हिसाब से वेहतर होने कि संभावनाए बनता है।ऐसे मे अगर SEO की बात कि जाए तो , एक चीज जो आप यहा कर सकते हैं, वह यह है कि आपके pages के बारे मे Google को ओर वेहतरी से समझाए ताकि आपके pages के बारे मे उसे ओर भी गहराई से समझने मे मदद मिल सके। जिसके लिए आप Meta tag, meta description जैसे चिजो पर ओर अधिक जोर देने होगें। साथ ही keyword research जैसे चिजो पर काम करन होगें। इसके लिए आप keyword research tools का सहारा ले सकते है।

Ranking

जब कोई user किसी चिज के लिए search box पर query ढालता है, तो Google तुरन्त अपने विशालकाय storage मे से यह पता लगाने की कोशिश करता है कि उस user के लिए कौन सा वेबपेज सबसे ज्यादा प्रासंगिक है और फिर उनकी एक क्रममानुसार सुची तैयार करता और सबसे अधिक उपयोगी परिणाम को SERP मे पहले प्रस्तुत करना है। जोकि ranking के नाम से जाना जाता है।हलाके, Google कि इस ranking factor मे उपयोगकर्ता के स्थान एवम भाषा जैसे कारक भी शामिल होता है। उदाहरण के तौर पर, अगर आप search box पर “best pizza hut near me” जैसे keyword को लेकर search करते है तो वे आपको आपके location में स्थित pizza hut को ही परिणामस्वरुप दिखाएगा, ना कि New York City पर स्थित किसी pizza hut को परिणामस्वरुप दिखाएगा। उसि तरह आप जिस भाषा के साथ चिजेको ढुढ़ेगें परिणाम भी आपको उसी भाषा मे मिलेगें।

अब आप समझ चुके होंगे कि search engine क्या है और कैसे काम करता है। इसलिए अब आपको search engine optimize समझने में आसानी होगी। क्योंकि SEO का सीधा संबंध search engine से होता है।

SEO काम कैसे करता है ?

आप ने एक ब्लॉग बनाया है  आप एक ब्लॉगर होतो आप के लिए  बेहद जरूरी है के यह   SEO काम कैसा करता है  इस के लिए हमें कुछ procces से गुजर ना होता है

वेबसाइट को सबमिट करना / search engine submission

जब आप कोई नया  ब्लॉग या वेबसाइट बनाते है तो सबसे पहले आप को उस ब्लॉग वेबसाइट को  search engine  जैसे Google का search engine Google   webmaster tool  या दूसरे कोई सर्च इंजन  Bing Yahoo  में submit करना होता है।

वेबसाइट crawl

जैसे ही हम search engine में अपनी वेबसाइट सबमिट  कर देते है फिर SEO  bot spider उस वेबसाइट को crawl  करते है  और सारे pages को वह अपने  data base में store करके रखता है  और फिर लोगों के quiry  के हिसाब से उन्हें searches में दिखात है।

वेबसाइट index

website submit और crawl  की प्रक्रिया  सफलतापूर्वक पूरी  होजाने के बाद  search engine आप की वेबसाइट को  index  करता है  सर्च रिजल्ट में दिखाने के लिए।

वेबसाइट ranking

बाकी के सब process पूरी होजने के बाद  final process होती है वेबसाइट या ब्लॉग के pages की ranking decide होती है। Search engine उस pages को search results में कितने number पर show करता है।

SEO ब्लॉग के लिए क्यों ज़रूरी है ?

लोग शुरू में अपना एक ब्लॉग बनाते हैं। और इसमें आर्टिकल भी publish करते है। पर उनके ब्लॉग को पढ़ने के लिए लोग Visit नहीं करते है। ऐसा क्यों होता है। देखो दोस्तों इसका सिंपल सा Funda है। अगर आपका ब्लॉग या वेबसाइट है। और उसपे आप कोई आर्टिकल लिखते हैं। तो इस आर्टिकल का SEO यानि Search Engine Optimization करना होगा। तभी Google आपके ब्लॉग को पढ़ने वाला ट्रैफिक भेजता है। और SEO के बल पर ही ऑनलाइन successful बनाया जा सकता है. SEO कैसे किया जाता है। और इसके basics terms को इस पोस्ट में आपको बतायेगे। साथ ही On Page SEO Kya Hota Hai और Off Page SEO Kya Hota Hai की पूरी जानकारी आपको देंगे तो चलिए SEO Ki Puri detail को समझते हैं। SEO Kya Hai

SEO के प्रकार -Types Off SEO In Hindi 

SEO तीन प्रकार का होता है पहला  On Page SEO और दुसरा है  Off Page SEO तीसरा है Local SEO तीनों का काम बिल्कुल अलग होता है  तो चलिए देखते है on-page SEO और Off page SEO और Local SEO क्या होते  हैं और इस में कौन कौन से  terms होते है. और इसकी मदद से सर्च इंजन ऑप्टिमाइजेशन कैसे करते है.

  • On Page SEO
  • Off Page SEO
  • Local SEO

On Page SEO क्या है?

on page SEO in hindi में जानकारी  जब हम ब्लॉग पर पोस्ट लिखने के बाद उस पोस्ट का on page SEO  किया जाता है आप को हर ब्लॉग पोस्ट के लिए on page SEO  करना होता है.
यह किसी भी सर्च इंजन को बताता है आप का पोस्ट किस topiq के बारे में बात कर रहा है और कौन कौन से keywords पर आप के पोस्ट Rank करना है दोस्तों on page SEO techniques बहुत important होता है और इस में शामिल होते है।

On Page SEO कैसे करे?

तो आइये जानते है, On Page Optimization Techniques के बारे में, जिनकी मदद से आप अपनी वेबसाइट को और भी ज्यादा बेहतर बना सकते है।

1. Website Speed

Website Speed रैंकिंग का एक बहुत बड़ा Factor है। अगर आपकी वेबसाइट की Speed अच्छी है, तो आपकी वेबसाइट पर User भी ज्यादा देर तक रुकते है। अगर बात करें, की एक वेबसाइट की अच्छी Speed क्या होनी चाहिए, तो आपको बता दें, की आपकी वेबसाइट 5 से 6 Second में पूरी Load हो जानी चाहिए। अगर आपकी वेबसाइट की स्पीड अच्छी नहीं होती है, तो ऐसे में आपकी वेबसाइट का Bounce Rate बढ़ जाता है, और आपकी वेबसाइट की Ranking Down होने लगती है। – On Page SEO Kaise Kare

Website की स्पीड बढ़ाने के लिए आप Image को Compress करके लगाए। अगर आपकी वेबसाइट में सभी Images 100Kb या इससे कम की होगी, तो आपकी वेबसाइट की स्पीड बढ़ जायेगी। इसके अलावा अगर आपकी वेबसाइट WordPress पर है, तो आप इसमें Plugin का उपयोग भी कर सकते है। Website की Speed बढ़ने के लिए WordPress में WP Rocket Plugin का उसे किया जाता है।

2. Website Navigation

Website Navigation भी On Page SEO का एक महत्वपूर्ण हिस्सा है, अगर आपकी वेबसाइट का Navigation अच्छा है, तो आपकी वेबसाइट पर User को किसी भी दूसरे पेज पर जाने के लिए परेशानी नहीं होगी। अपनी वेबसाइट का Navigation या Menu हमेशा User Friendly बनाये।

3. Title Tag

जब आप अपनी वेबसाइट की Post के लिए Title लिखते है, तो उसे हमेशा ऐसा लिखे जिससे की Visitor को पढ़ते ही उस पर Click करना पड़ जाए। इससे आपकी वेबसाइट का CTR Increase होगा, और आपकी वेबसाइट की Ranking भी बढ़ेगी। आपको हमेशा अपनी वेबसाइट में Title Tag 65 Character का लिखना चाहिए, जिससे की गूगल के सर्च Engine में वह पूरा दिखाई दें। आपको अपने SEO Title में Number और Power Word का Use करना चाहिए। – On Page SEO Kaise Kare

उदारहण के लिए – मान लीजिये आपने एक आर्टिकल का Title लिखा “सबसे बेस्ट कंप्यूटर कोर्स कौन सा है?” लेकिन अगर आप इसी Title को 10 सबसे बेस्ट कंप्यूटर कोर्स कौन से है? इस तरह से लिखते है, तो आपके दूसरे Title पर Click करने के Chance ज्यादा होता है। तो आपको हमेशा अपने Title Tag में Power Word और Number का Use करना चाहिए।

4. Post URL

अपनी वेबसाइट में Post का URL हमेशा छोटा लिखे। जिस Keyword को Target करके आप अपनी पोस्ट लिख रहे है, हमेशा उस Keyword को अपनी पोस्ट के URL में लिखे। पोस्ट के URL में कभी भी Year ना लिखे, इससे आपको अपना आर्टिकल Update करने में Problem होती है।

5. Internal Link

Internal Link भी On Page SEO का एक महत्वपूर्ण Factor है। आपको अपना Article इस तरह से लिखना चाहिए, की जो आर्टिकल आपके पहले से लिखे हुए है, उन शब्दों का उपयोग करके आप उस शब्द पर Internal Linking कर सकते है। इससे आपके Article को Rank होने में मदद मिलती है। उदहारण के लिए – मान लीजिये मैंने एक आर्टिकल लिखा है, Facebook Marketing क्या है तो यह एक शब्द या Keyword है, इस पर में अपने दूसरे आर्टिकल को Link कर दूंगा, और आप इसे भी पढ़ सकते है। इसी तरह से आप अपने प्रतियेक आर्टिकल में इंटरनल लिंकिंग जरूर करें। – On Page SEO Kaise Kare

6. Alt Tag

Alt Tag का उपयोग वेबसाइट में लगाने वाली Images में किया जाता है। अगर आप अपनी वेबसाइट की सभी Images में Alt Tag का उपयोग करते है, तो इससे आपकी वेबसाइट की Images भी Search Engine में Rank करती है, जिससे आपकी वेबसाइट में Traffic बढ़ने लगता है।

7. Content, Heading And Keyword

आपकी पूरी वेबसाइट की Ranking और User का Experience आपके Content पर निर्भर करता है। अगर आपने अपनी वेबसाइट में अच्छा कंटेंट लिखा है, तो यूजर आपकी वेबसाइट के कंटेंट को देर तक पड़ेगा। आपको किसी भी टॉपिक पर कम से कम 750 Word लिखने चाहिए, और अगर कोई Topic बड़ा है, तो उसको पूरा लिखना चाहिए।

जब आप कंटेंट लिखते है, तो उसमे Heading का विशेष ध्यान रखे। अपने कंटेंट में H1, H2, H3 Heading का Use जरूर करें। अपने Heading में आप Focus Keyword का Use जरूर करें।

जब आप अपनी वेबसाइट के लिए Content लिख रहे है, तो उसमे Long Tail Keyword का Use करें। क्योकिं Long Tail Keyword पर आसानी से वेबसाइट रैंक हो जाती है। जिस कीवर्ड के ऊपर आप अपनी Post लिख रहे है, उसको कंटेंट में कुछ जगह पर Bold भी करना चाहिए। अगर आप इन सभी On Page Optimization Techniques का Use करते है, तो आपकी वेबसाइट का On Page SEO बहुत बढ़िया हो जाएगा। – On Page SEO Kaise Kare



Off Page SEO  क्या है?

Off page SEO नाम से ही स्पष्ट है Off page ऐसा कुछ जो on page SEO से हट कर करना होता है on page SEO  के अलावा Off page SEO भी काफी important रखता है. जिससे हम अपनी post को Google के 1 page पर Rank करा सकते है. अगर आपका ब्लॉग वर्डप्रेस पर बना होआ है तो आपको Yost SEO  plugin की मदद से आसानी से OnPage SEO कर सकते है |

Off Page SEO कैसे करे?

Off Page SEO करने के बहुत सारे तरीके होते है। जिनकी मदद से आप अपनी वेबसाइट की रैंकिंग बढ़ा सकते है। अगर आप अपनी वेबसाइट का On पेज SEO कर लेते है, और Off Page SEO नहीं करते है, तो ऐसे में आपकी वेबसाइट पर Traffic आने में बहुत समय लग सकता है। तो आइये जानते है, Off Page SEO Techniques के बारे में पूरी जानकारी – Off Page SEO Kya Hai Aur Kaise Kare

1. Search Engine Submission

Search Engine Submission में आपको अपनी वेबसाइट को Search Engine में Submit कराना होता है। निचे आपको कुछ Search Engine के लिंक दिए हुए है, आप अपनी वेबसाइट को इन सभी Link में Submit कर सकते है।

2. Bookmarking Submission

Bookmarking Submission वेबसाइट की रैंकिंग के लिए बहुत महत्वपूर्ण है। आप Internet से बुकमार्किंग की वेबसाइट निकलकर अपनी वेबसाइट या आर्टिकल को इनमे सबमिट कर सकते है। यहाँ पर आपको कुछ Popular Bookmarking Website दी गयी है, आप इन पर भी अपनी वेबसाइट को सबमिट कर सकते है।

  • Twitter
  • Pocket
  • Reddit
  • Dribble
  • Slashdot
  • Pinterest
  • StumbleUpon

3. Directory Submission

Directory Submission के अंतर्गत आप अपनी वेबसाइट को High Domain Authority (DA) और High Page Authority (PA) वाली वेबसाइट के अंदर Submit करें। इससे आपकी वेबसाइट की Domain Authority (DA) और Page Authority (PA) बढ़ती है

4. Social Media

आप सोशल मीडिया के अंतर्गत अपनी वेबसाइट का पेज बनाकर उसमे वेबसाइट का लिंक Add कर सकते है। इसके बाद आप अपनी वेबसाइट पर जो भी नया आर्टिकल लिखते है, उसे सभी Social Media वेबसाइट पर शेयर करें। इससे आपकी वेबसाइट की Reach बढ़ती है।

5. Classified Submission

Classified Submission भी Off Page का एक महत्वपूर्ण Factor है। इसके लिए आप Internet पर Free Classified Submission Site लिखकर Search करें। आपको बहुत सारी वेबसाइट मिल जाएंगी। इन वेबसाइट पर Signup करके आप यहाँ पर अपनी वेबसाइट को Submit कर सकते है। इसकी सबसे महत्वपूर्ण बात यह है, की आप किसी भी Country की Classified Website में अपनी वेबसाइट को सबमिट कर सकते है।

मान लीजिये आपको अपनी वेबसाइट को ऑस्ट्रेलिया की वेबसाइट में सबमिट करना है, तो आपको Google में जाकर आपको Top 10 Classified Sites in Australia लिखना है, आपके सामने Best Site की लिस्ट आ जाएगी। अगर आपको Free चाहिए, तो आपको Free Classified Sites लिखकर सर्च करना है। इस तरह से आप Classified Submission कर सकते है।

6. Blog Commenting

इसके लिए आपको अच्छे ब्लॉग पर जाकर Comment करनी पड़ती है। और जहाँ पर Website का Option होता है, वहां पर आपको अपनी वेबसाइट का लिंक डालना होता है। इस तरह से आपको Commenting से एक Backlink मिल जाता है। इसके अलावा कुछ वेबसाइट में आप कमेंट के अंदर अपने Focus Keyword को Anchor के साथ Hyper Link भी कर सकते है।

7. Question and Answer Website

आपको Question and Answer वाली वेबसाइट में जाकर लोगो द्वारा पूछे गए सवालों के जबाब देने है। और उसी जबाब में आपको उस लेख से सम्बंधित अपने आर्टिकल का लिंक भी दे देना है। इससे आपकी वेबसाइट को एक Backlink भी मिलेगा, और आपकी वेबसाइट पर ट्रैफिक भी आएगा। Question and Answer की सबसे Popular Website “Quora” है आप इस अपना अकाउंट बना सकते है।

8. Guest Post

Guest Post आपकी वेबसाइट के लिए बहुत ही अच्छी Technique है। इससे आपको High Quality Backlink मिलता है। आपको इसके लिए अपने Blog से सम्बंधित वेबसाइट या ब्लॉग के Owner को Contact करके उससे एक Guest Post ले सकते है। इसके अलावा आपको गूगल पर भी बहुत सारी Free Guest Post Website मिल जाएंगी। जहाँ पर आप एक अच्छा सा Content लिखकर उसमे अपनी वेबसाइट का या फिर अपनी वेबसाइट के आर्टिकल का लिंक लगाकर सबमिट कर सकते है।

9. Web 2.0 Submission

Web 2.0 Submission में आप एक Subdomain के साथ ब्लॉग बना सकते है। इसके बाद इसे Full Customize करके इसके ऊपर कुछ आर्टिकल डाल सकते है। इसके प्रतियेक आर्टिकल में आप वेबसाइट के डाल सकते है। मान लीजिये आपने Blogger पर एक Web 2.0 Submission किया तो इसके लिए आपको सबसे पहले एक Website URL चुनना पड़ेगा। जो की आपको xyz.blogspot.com मिलेगा। इस तरह के बैकलिंक भी बहुत Powerful होते है।

10. Profile Creation

Profile Creation भी Off Page का एक अच्छा तरीका है। आपको बता दें, की Off पेज का मुख्य उद्देश्य Backlink बनाना ही होता है। चाहे वह Do Follow Backlink हो या फिर No Follow Backlink हो। Profile Creation की बहुत सारी वेबसाइट ऐसी है, जो आपको Do Follow Backlink देती है। आपको गूगल में जाकर कुछ High DA वाली वेबसाइट को ढूंढ़ना है, और उन पर अपनी प्रोफाइल बनाकर उसमे अपनी वेबसाइट का लिंक डालना है। जिससे आपको एक अच्छा Backlink मिल जाता है- OFF Page Seo Kya Hai Aur Kaise Kare

Local SEO क्या होता है?

अक्सर लोग यह पूछते है के Local SEO क्या होता है? मेरी मानें तो इसका जवाब वहीँ इसके सवाल में ही छुपा हुआ है।

Local SEO को अगर विसलेसन करें तब ये दो शब्दों का समाहार है Local + SEO। यानि की किसी local audience को ध्यान में रखकर किया जाने वाला SEO को Local SEO कहा जाता है। यह एक ऐसे technique है जिसमें की आपकी website या blog को ख़ास तोर से optimize किया जाता है जिससे की search engine पर बेहतर rank करे एक local audience के लिए। वैसे एक website की मदद से आप पुरे internet को target कर सकते हैं, वहीँ अगर आपको एक particular locality को ही target करना है तब इसके लिए आपको Local SEO का इस्तमाल करना होगा। इसमें आपको optimize करना होगा आपके शहर के नाम, वहीँ इसके address details को भी साथ में optimize करना होगा। वहीँ इसे संक्ष्यिप्त में कहें तब आपको कुछ ऐसे तरीके से अपने site को optimize करना होगा जिससे की लोगों को केवल online ही नहीं बल्कि Offline में भी आपको जान सकें। Off Page Seo Kya Hai Aur Kaise Kare



क्या SEO करना आसान है?

इसका सीधा सा जवाब नहीं है। क्यूँकि SEO पर कभी भी कोई पूरी महारत नहीं हासिल कर सकता है, इसका वजह इसमें हमेशा हो रहे बदलाव है। ऐसे में अगर आप blogging को लेकर serious हैं तब तो आपको SEO tutorial के विषय में जानकारी जरुर रखनी चाहिए। ऐसा करने से ये बाद में आपके बहुत काम में आने वाली हैं। SEO का वैसे कोई rule नहीं होते हैं बल्कि ये कुछ Google Algorithms के ऊपर आधारित हैं और वो निरंतर बदलता रहता है।

दोस्तों अगर आप  Google Algorithms Kya Hai के बारे जानना चाहते है तो आप नीचे दिए गए link पर जाये  :- Google Algorithm Updates Kya Hai और कैसे काम करता है?

एक बात का जरुर ध्यान दें की यदि कोई आपसे कहे की वो एक बड़ा SEO Expert in Hindi है तब उसे कभी यकीन न करें क्यूंकि आजतक कोई भी SEO पर mastery नहीं कर पाया है। ये चीज़ ही ऐसी है और समय के साथ साथ और जरुरत के हिसाब से ये बदलता रहता है। लेकिन फिर भी Google SEO guide के कुछ Fundamentals हैं जो की हमेशा समान होते हैं। इसलिए ये जरुरी है की Bloggers हमेशा खुदको नए एसईओ तकनीक से updated रहें। इससे आपको market में चल रहे trends के बारे में पता होगी जिससे आप भी अपने articles में जरुरी बदलाव ला सकते हैं जो की बाद में आपको rank करने में मदद करेंगी। Seo Kya Hai Aur Kaise Kare

SEO के फायदे – Advantage of SEO in Hindi

Blogging में SEO बहुत Important होता है जिसके अनेक सारे फायदे आपको मिलते हैं. SEO के कुछ प्रमुख फायदे निम्नलिखित हैं –

  • SEO करने से सर्च इंजन रिजल्ट पेज में ब्लॉग की रैंकिंग बढती है.
  • ब्लॉग पर फ्री में अनलिमिटेड ट्रैफिक ले सकते हैं.
  • SEO से ब्लॉग की अथॉरिटी बढती है.
  • SEO करने से ब्लॉग पर ट्रैफिक आता है जिससे आपको कमाई Boost होगी.
  • SEO से आप अपनी सर्विस के लिए अधिक क्लाइंट प्राप्त कर सकते हैं.
  • अगर आपके पास कोई प्रोडक्ट है तो SEO से आप अपने प्रोडक्ट के लिए अधिक कस्टमर प्राप्त कर सकते हैं.

SEO के नुकसान – Disadvantage of SEO in Hindi

SEO के फायदों के साथ – साथ कुछ नुकसान भी हैं, लेकिन इसके नुकसान बहुत ही कम हैं जिसे Ignore भी किया जा सकता है.

  • SEO Time Taking प्रोसेस है, इससे ब्लॉग को रैंक करवाने में 6 महीने से लेकर 1 साल तक का भी समय लग सकता है.
  • समय – समय पर गूगल के Algorithm में बदलाव होते रहता है जिससे SEO की तकनीक भी समय – समय पर बदलती रहती है.
  • अगर आपको SEO में आने वाले अपडेट के बारे में पता नहीं है तो आपके ब्लॉग की रैंकिंग में Effect पड़ सकता है.

यह लेख भी पढ़ें – 

आज हम ने सीखा

तो दोस्तों मेने आपको इस artical मे मेने Seo Kya Hai Aur Kaise Kare और कैसे काम करता है? के बारे मे बताया है।अगर आपको ये artical अच्छा लगा हो तो अपने दोस्तों के साथ जरुर शेयर करें |

” SEO क्या है और कैसे करते हैं – What is SEO in Hindi “

This Post Has One Comment

  1. HindimeGuru

    गुणवत्तापूर्ण जानकारी के लिए धन्यवाद

Leave a Reply