PM Matritva Vandana Yojana 2023
Spread the love

PM Matritva Vandana Yojana 2023 – जिसे 1 जनवरी 2017 को हमारे सम्मानित प्रधानमंत्री जी ने प्रारंभ किया, गर्भवती और स्तनपान कराने वाली महिलाओं के लिए विशेष रूप से डिज़ाइन की गई है। इस योजना के तहत, पहली बार मां बनने वाली महिलाओं को ₹6000 की आर्थिक सहायता प्रदान की जाती है।

PM Matritva Vandana Yojana 2023 यह योजना कई लोग प्रधानमंत्री गर्भावस्था सहायता योजना के नाम से भी जानते हैं, क्योंकि इसका मुख्य उद्देश्य गर्भवती महिलाओं की सहायता है। इस लेख के माध्यम से, हम आपको इस योजना के सभी पहलुओं की जानकारी प्रदान करने जा रहे हैं, इसलिए कृपया पूरा आर्टिकल ध्यान से पढ़ें।



PM Matritva Vandana Yojana 2023 Highlight

PM Matritva Vandana Yojana 2023

योजना का नाम: प्रधानमंत्री मातृत्व वंदना योजना 2023 [PMMVY]
शुरू करने वाला: भारतीय सरकार
योजना की आरंभ तिथि: 1 जनवरी 2017
संचालन करने वाला विभाग: महिला और बाल विकास मंत्रालय
आवेदन की समाप्ति तिथि: लागू नहीं
उद्देश्य जन समूह: गर्भवती महिला, पूरे देश में
सहायता राशि: ₹6000 (केवल पहली बार जीवित बच्चे के जन्म पर)

आधिकारिक वेबसाइट:

https://wcd.nic.in/

प्रधानमंत्री मातृत्व वंदना योजना 2023- PM Matritva Vandana Yojana 2023

भारत सरकार ने प्रधानमंत्री मातृत्व वंदना योजना के तहत पहली बार मां बनने वाली महिलाओं को ₹6000 की वित्तीय सहायता प्रदान करने का निर्णय लिया है।

PM Matritva Vandana Yojana 2023 यह योजना उन महिलाओं के लिए है जिनकी आयु 19 वर्ष से अधिक हो। विशेष बात यह है कि एक महिला केवल अपने पहले गर्भधारण पर ही इस योजना का लाभ ले सकती है।

PM Matritva Vandana Yojana 2023 इस योजना का प्रमुख उद्देश्य मातृत्व की अवस्था में महिलाओं को आर्थिक सहायता प्रदान करना है, ताकि वह सही पोषण और उपचार प्राप्त कर सके।

 इससे महिलाएं और उनके नवजात शिशु, दोनों की सेहत में सुधार हो सकता है। योजना में शामिल होने के लिए, गर्भवती महिला का गर्भधारण 1 जनवरी 2017 के बाद होना चाहिए।



प्रधानमंत्री मातृत्व वंदना योजना के लिए आवेदन कैसे और कहां करें?

PM Matritva Vandana Yojana 2023 प्रधानमंत्री मातृत्व वंदना योजना के अंतर्गत लाभ प्राप्त करने की प्रक्रिया सीधे और स्पष्ट है। गर्भवती महिला को इस योजना का लाभ प्राप्त करने के लिए नजदीकी आंगनवाड़ी या स्वास्थ्य केंद्र पर जाकर तीन आवश्यक फॉर्म पूर्ण करने होते हैं।

इन फॉर्मों को सही से भरने और सबमिट करने के बाद, जब महिला का पहला जीवित शिशु जन्मता है, तब उसे सरकार द्वारा ₹6000 की वित्तीय सहायता प्रदान की जाती है।

प्रधानमंत्री मातृत्व वंदना योजना का लाभ अब प्राइवेट अस्पतालों में भी मिलेगा

PM Matritva Vandana Yojana 2023 अब प्रधानमंत्री मातृत्व वंदना योजना के लाभ प्राइवेट अस्पतालों में भी मिलेंगे। हालांकि, लाभ प्राप्त करने के लिए महिलाओं को अपने नजदीकी सरकारी अस्पताल या आंगनवाड़ी केंद्र में आवेदन करना होगा।

डॉ. मनोज अग्रवाल, CMO, ने जानकारी दी कि सरकार प्राइवेट अस्पतालों के साथ समझौता कर रही है ताकि इस योजना का विस्तार किया जा सके, जिससे ज्यादा गर्भवती महिलाओं तक योजना का लाभ पहुंच सके।

Read More :- लाडली बहना आवास योजना एमपी 2023: Form Pdf Download, Online Apply

प्रधानमंत्री मातृत्व वंदना योजना के अंतर्गत वित्त का वितरण किस प्रकार से किया जाएगा?

PM Matritva Vandana Yojana 2023

प्रधानमंत्री मातृत्व वंदना योजना के तहत, एक महिला को जीवित शिशु के जन्म पर वित्तीय सहायता प्रदान की जाती है, जो सीधे उसके बैंक खाते में DBT के जरिए भेजी जाती है। इस सहायता की राशि तीन चरणों में दी जाती है:

  1. पहली किस्त – ₹1000: जब गर्भवती महिला पंजीकरण कराती है, तो इस समय उसे ₹1000 की राशि मिलती है।
  2. दूसरी किस्त – ₹2000: महिला को यह राशि प्रदान की जाती है जब वह अपने गर्भ के 6 महीने पूरे होने पर एक स्वास्थ्यिक जांच करवाती है।
  3. तीसरी किस्त – ₹2000: जब बच्चे को पहला टीका लगता है, जैसे कि BCG, OPV, DPT, और हेपेटाइटिस-B, तो उस समय महिला को ₹2000 की तीसरी और अंतिम किस्त मिलती है।

PM Matritva Vandana Yojana 2023: प्रधानमंत्री मातृत्व वंदना योजना 2023, दूसरी संतान बेटी हुई तो मिलेंगे 6000/-

इस योजना का लाभ ऐसी महिलाएं नहीं उठा सकती जो

जो महिलाएं राज्य या केंद्रीय सरकार में सेवा में हैं या किसी अन्य लाभप्रद पद पर हैं, वे इस योजना से लाभ नहीं प्राप्त कर सकतीं। अधिकतर, जिन महिलाओं ने पहले ही किसी समान योजना का अधिकार प्राप्त किया है, उन्हें भी इस योजना के अंतर्गत वित्तीय सहायता प्राप्त करने का अधिकार नहीं है।




प्रधानमंत्री मातृत्व वंदना योजना में आवेदन के लिए आवश्यक दस्तावेज

  • माता-पिता की आधार संख्या
  • माता-पिता की पहचान डॉक्यूमेंट
  • बालक/बालिका का जन्म प्रमाण
  • बैंक खाता विवरण पुस्तिका

Read More :- नमो शेतकरी महा सम्मान निधि योजना 2023, online form, Apply (Namo Shetkari Maha Samman Nidhi Yojana)

प्रधानमंत्री मातृत्व वंदना योजना के हेल्पलाइन नंबर में किया गया बदलाव

प्रधानमंत्री मातृत्व वंदना योजना 2022 का नया हेल्पलाइन नंबर 104 है। पहले इस नंबर की स्थान पर 7998799804 था। इस योजना में केंद्र सरकार गर्भवती महिलाओं को उनके बच्चे के लालन-पालन और पोषण के उद्देश्य से तीन भागों में ₹5000 वित्तीय सहायता प्रदान करती है।

FAQs

Q प्रधानमंत्री मातृत्व वंदना योजना के लिए आवेदन कैसे करें?

Ans गर्भवती महिलाएं प्रधानमंत्री मातृत्व वंदना योजना के लाभ के लिए आशा कर्मचारी या आशा संगिनी के माध्यम से आवेदन पत्र जमा कर सकती हैं। इस आवेदन पत्र की भराई चिकित्सकीय प्रधान अधिकारी की निगरानी में होनी चाहिए। आवेदन करते समय, लाभार्थी से कुछ आवश्यक दस्तावेज, जैसे आधार कार्ड, बैंक विवरण, मातृ-शिशु सुरक्षा कार्ड और अन्य प्रासंगिक पत्र, प्रस्तुत करने की आवश्यकता होती है।



Q क्या प्रधानमंत्री मातृत्व योजना में आवेदन के समय किसी प्रकार का शुल्क लिया जाता है?

Ans अगर आप प्रधानमंत्री मातृत्व योजना में आवेदन कर रहे हैं, तो आपको जानकर खुशी होगी कि इसके लिए कोई शुल्क नहीं है। अगर कोई आपसे इस योजना में आवेदन करने के लिए पैसे मांगता है, तो आपको सतर्क रहना चाहिए। क्योंकि कई धोखाधड़ी वेबसाइटें सरकारी योजनाओं का नाम लेकर अनजान लोगों से पैसे ठगती हैं।

Thanks For Reading. 

Similar Posts

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *