You are currently viewing Google Kya Hai? | Google Ka Malik Kon Hai

Google Kya Hai? | Google Ka Malik Kon Hai

“Google Kya Hai? | Google Ka Malik Ka Kon Kya Hai”

हेलो दोस्तों आपका हमारी Website पर सुवागत है आज हम आपको Google Kya Hai? | Google Ka Malik Ka Kon Kya Hai के बारे मे बताने वाले है। तो दोस्तों अगर आप Google Kya Hai? | Google Ka Malik Ka Kon Kya Hai के बारे मे जानना चाहते है तो आप इस Artical को पूरा जरूर पड़े |



Google क्या है – What is Google in Hindi

Google दुनिया का सबसे बड़ा सर्च इंजन है जो की हमारे द्वारा सर्च किये गए Keyword को वेबसाइट और Web Page में सर्च करता है और इससे सम्बंधित रिजल्ट को हमारे सामने रैंकिंग के आधार पर Web Page पर दिखाता है  शायद ही कोई ऐसा सवाल हो जो की Google पर सर्च करने उसका जवाब न मिले या यु कहे Google पर आपको लगभग जो भी चीज़े सर्च करते है उसका जवाब मिल जाता Google एक अमेरीकी बहुराष्ट्रीय प्रौद्योगिकी कम्पनी है, जिसने इंटरनेट सर्च, क्लाउड कम्प्यूटिंग और विज्ञापन तंत्र में पूँजी लगायी है। यह इंटरनेट पर आधारित कई सेवाएँ और उत्पाद बनाता तथा विकसित करता है 

उदाहरण के लिए Google Drive जिसका इस्तेमाल आप सभी करते है Google Chrome ये Google का खुद ब्राउज़र है जिसका इस्तेमाल आज के टाइम में सबसे ज्यादा किया जाता है Google का खुद का ऑपरेटिंग सिस्टम Android है जो की स्मार्टफोन का OS है Google Play Store जिस पर की आप फ्री का एप्लीकेशन डाउनलोड करते है ये सभी Google का ही प्रोडक्ट है | साल 2016 में Google ने मोबाइल इंडस्ट्री में भी अपनी दिलचस्पी दिखाई और मार्किट में एक नया मोबाइल लॉन्च जिसका नाम Google Pixels है और ये लॉन्च होते ही मार्किट में छा गयी | Google Kya Hai? | Google Ka Malik Ka Kon Kya Hai




Google का पूरा नाम क्या है – Google Full Form

Google का पूरा नाम Global Organization Of  Orientated Group Language of Earth है |

Google का मालिक कौन है ?

Google के मालिक Larry Page और Sergey Brin है |

Google के CEO कौन है ?

Google के CEO Sunder Pichai है जो की भारतीय मूल के निवासी है जो 2015 से Google में अपनी सेवाएं दे रहे है |

Google कहा की कंपनी है ?

Google  अमेरिका की कंपनी है जिसका हेड ऑफिस अमेरिका के कैलिफ़ोर्निया राज्य में स्थित है जिसका ब्रांचअनेक देश में स्थित है Google Kya Hai?

Google कैसे काम करता है ?

इसका सवाब देना थोड़ा मुश्किल है की Google कैसे काम करता है फिर भी इसे हम एक तरह से समझने की कोशिश करते है Google सर्च इंजन आपके द्वारा सर्च किये गए कंटेंट को सर्च करने से लेकर रिजल्ट दिखाने तक की प्रोसेस 3 फेज में पूरा करता है

  1. क्रोलिंग
  2. इंडेक्सिंग
  3. रैंकिंग

Google का इतिहास (History of Google )

Google की स्थापना जनवरी 1996 में लैरी पेज और सर्जे ब्रिन की खोज के दौरान हुई. इतना ही नहीं स्टैनफोर्ड विश्वविद्यालय से दोनों पीएचडी की पढ़ाई कर रहे थे. इस समय दोनों पीएचडी के विद्यार्थियों ने अपनी शोध में सर्च इंजन के नाम से इसे परिभाषित किया था, जिसके बाद में Google का नाम दिया. Google शब्द एक अन्य शब्द गूगोल (Googol) से आया है. इस सर्च इंजन के पीछे का (संकल्पना) कांसेप्ट था, एक तरह की दो वेबसाइट के बीच तुलना करना. 1 ‘गूगोल’ में 1 के बाद 100 शून्य स्थापित होता है. आरम्भ में यह सर्च इंजन स्टैनफोर्ड विश्वविद्यालय के लिए प्रयोग किया गया और इस विश्वविद्यालय के औपचारिक वेबसाइट के अधीन चलाया गया.  वेबसाइट बनाने का तरीका यहाँ पढ़ें. Google Kya Hai? | Google Ka Malik Ka Kon Kya Hai

Google का आविष्कार कब हुआ

Google को आरम्भ में एंडी बेचल्स्हिम्स द्वारा फंडिंग दी गयी, एंडी सन माइक्रोसिस्टम के संस्थापकों में से एक हैं. यह फंडिंग इसे तब दी गयी जब Google किसी भी तरह से बाजार में उपलब्ध नहीं था और किसी तरह का धनार्जन नहीं कर रहा था. इसकी सफलता को देखते हुए पुनः तीन और ‘एंजेल निवेशकर्ता’ द्वारा फंडिंग प्राप्त हुई. ये तीन एंजेल निवेशकर्ता थे अमेजन डॉटकॉम के संस्थापक जेफ बेजोस, स्टैनफोर्ड विश्वविद्यालय के साइंस प्रोफेसर डेविड चेरिटोन, तथा इंटरप्रेन्योर राम श्रीराम. वर्ष 1998 के अंत तथा 1999 के आरम्भ में इस तरह के निवेश के बाद 7 जुलाई 1999 Google को 25 मिलियन डॉलर की फंडिंग प्राप्त हुई. इस फंडिंग (निवेश) में कई निवेशकर्ता या इन्वेव्स्टर मौजूद थे. इन बड़े निवेशकर्ता में उद्यम पूंजी फर्म क्लेनर पर्किन्स कॉफ़ील्ड एंड बियरर्स तथा (Sequoia Capita) सेक्वाया कैपिटा शामिल थे.

वर्ष 1999 के आरम्भ में ब्रिन और पेज ने मिलकर यह निर्णय लिया था कि वे एक्साइट  नामक कंपनी Google को बेच देंगे. उन्होंने इस कंपनी के सीईओ जॉर्ज बेल से मुलाकात की और 1 मिलियन डॉलर में इसे बेचने का ऑफर दिया, हालाँकि जॉर्ज ने इस ऑफर को ठुकरा दिया. एक्साइट कंपनी के मुख्य निवेशकों में से एक विनोद खोसला ने यह डील हालाँकि 1 मिलियन डॉलर से 750,000 मिलियन डॉलर तक ले आये, लेकिंग जॉर्ज बेल ने इसे फिर भी ठुकरा दिया था. Google Kya Hai? | Google Ka Malik Ka Kon Kya Hai



Google के संस्थापक एवं उनके Shares

वैसे तो Google कंपनी के कई shareholders हैं, लेकिन यहाँ मै आपको उन तीन खास नामों के बारे में बताने जा रहा हूँ जिनके shares बाकी सबसे अधिक हैं.

1. Larry Page – इनके पास Google के 27.4% shares हैं.

2. Sergey Brin – इनके पास 26.9% shares हैं.

3. Eric Schmidt – इनके पास Google कंपनी के 5.5% shares हैं.

सर्वप्रथम Google की खोज किसके द्वारा की गई?

  • आपको बता दें कि Google कंपनी को किसी बड़े साइंटिस्ट और इंजीनियर द्वारा नहीं बनाया गया हैं। Google कंपनी को सिर्फ दो स्टूडेंट ने मिलकर बनाया है। जी हां सिर्फ दो स्टूडेंट जिन्होंने PHD की पढ़ाई करते समय Google की खोज की थी। उन दोनों स्टूडेंट्स का नाम Larry Page और Sergey Brian हैं। यह दोनों स्टूडेंट “स्टैंड फॉर यूनिवर्सिटी ऑफ कैलिफोर्निया” के छात्र थे। साल 1995 में यह दोनों एक दूसरे से इस यूनिवर्सिटी में मिले थे। और इस यूनिवर्सिटी में पढ़ाई करते हुए इन दोनों ने मिलकर सर्च इंजन की शुरुआत की थी।
  • इसके बाद साल 1996 में Larry Page और Sergey Brian ने मिलकर अपने PHD की Research Project में कुछ अलग और अद्भुत करने की ठान ली। उन दोनों ने सोचा कि अगर हम वेबसाइट को रैंक करा कर दूसरे वेबसाइट के साथ तुलना करें तो ये काफी अच्छा कदम होगा। उस दौर में रैंक कराने का एक अलग तरीका होता था, तरीका यह था कि जितनी बार सर्च किया गया शब्द उस वेब पेज पर होगा। उसी हिसाब से आपकी वेबसाइट रैंक करेंगी।  उस वक्त उनके द्वारा सोची गई वहीं बात आज हमारे सामने Google के रूप में मौजूद है। शुरूआत में उन्होंने Google   का नाम BACKRUB रखा था।
  • और फिर अगले साल वर्ष 1997 में इसका नाम Google  रखा गया। वाकई में यह एक अजीब सच्चाई है कि Google का नाम Mathmeticle शब्द Googol के गलत लिखने से बना है। इस शब्द (Googol) का सही अर्थ 1 के पिछे 100 जीरो होता है।
  • इसके बाद Google की सफलता दिन प्रतिदिन बढ़ती रही और 1998 में Google ने अपना पहला डूडल होम पेज बनाया। परंतु वर्तमान समय की बात करें तो Google के पास 2000 से भी अधिक डूडल होमपेज है। और इस वक्त पूरे दुनिया में Google ने अपनी डूडल होमपेज की एक टीम बना के रखी है।
  • वर्ष 2000 में Google सफलता के एक और सीढ़ी चढ़ने लगा। Google अब Adword की शुरुआत कर चुका था। इसके साथ ही Google अब ONLINE ADVERTISMENT की सुविधा भी देने लगा था। और इस क्षेत्र में Google अब दुनिया की सबसे बड़ी कंपनियों में गिना जाने लगा था। Google अब text के साथ-साथ video के फॉर्म में बड़ी कंपनियों के ऐड दिखाता था, और इसके बदले में उन कंपनियों से पैसे लेता था।
  • इसके बाद वर्ष 2004 में 1 अप्रैल को Google ने अपनी एक एप्लीकेशन Gmail को लांच किया। और लॉन्च के साथ ही इस एप्लीकेशन में डाटा स्टोर करने का प्रयाप्त डाटा स्पेस भी दिया गया था। वर्तमान समय में Gmail की डाटा स्टोर की क्षमता को Google की ओर से और बढ़ा दिया गया है।
  • Google अब अपनी सफलता के दम पर सबसे बड़ी कंपनी बन चुकी थी। और साल 2004–05 में उसने MAP ऐप की एक Keyhole नाम की कम्पनी को ही खरीद लिया। और आज हम इसी Map Company को Google maps के नाम से जानते हैं। जिसके जरिए हम रास्ते देखते हैं किसी नई जगह की जानकारी प्राप्त करते हैं और घर बैठे पूरी दुनिया के नक्शे को देख लेते हैं।
  • इसके बाद साल 2006 में तो Google कंपनी ने अपनी सफ़लता का तहलका ही मचा दिया, जब इसने Video Shareing की एक बहुत ही बड़ी Company YOUTUBE को ही खरीद लिया। और आज के समय में Youtube अपनी सफलता के चरम सीमा पर है आज के समय में youtube पर हर 1 मिनट में 60 घंटे के वीडियो अपलोड होते हैं।
  • Google की सफलता की रफ्तार यही पर नहीं रुकी इसके बाद साल 2007 में Google ने Mobile Operating System की एक बहुत बड़ी Company “Android” को ही खरीद लिया। जो कि आज के समय में सबसे अधिक इस्तेमाल होने वाला Oprating System है।
  • 2008 में Google कंपनी ने मार्केट में खुद का एक ब्राउजर को लॉन्च किया। जिसका नाम Chrome था। Chrome को Google की ओर से आधिकारिक रूप से 2 सितंबर 2008 को लॉन्च किया गया था। और आज यह पूरी दुनिया में No.1 ब्राउजर के तौर पर जाना जाता है।
  • साल 2011 में Larry Page को Google का नया CEO बनाया गया , और CHAIRMAN के पद की जिम्मेवारी Eric Schmid को सौंपी गई। फिलहाल Eric Schmid Google के Executive Chairman के पद पर कार्यरत हैं।
  • वर्ष 2011 में ही Google ने अपने Project+ की शुरुआत की। इसके तहत रियल लाइफ फीचरिंग की शुरुआत की गई। जिसमें फेसबुक और टि्वटर आदि एप्लिकेशन शामिल थे।
  • इसके बाद वर्ष 2012 में Android का 4.1 अपडेट jelly bean लाया गया।
  • वर्ष 2012 में 9 जुलाई को Google Voice Search और Google Now जैसी फीचर की शुरूआत हुई। हालाकी अब हम इसे Google Assistant के नाम जानते हैं।
  • वर्ष 2013 में Google Glass device आया जिसके जरिए आप अपने चश्मे के द्वारा भी मोबाइल को चला सकते हैं। इसके बाद वर्ष 2015 में Google ने VR HEADSET की शुरूआत की। जो वर्तमान समय में काफी लोकप्रिय हो चुका है।
  • वर्ष 2016 में जब Google Loon Project का शुरूआत हुआ तो, जहां-जहां इंटरनेट की सुविधा नहीं थी वहां वहां पर इंटरनेट की सुविधा को विकसित किया गया। और इसी वर्ष Google का पहला मोबाइल फोन लांच किया गया, जिसका नाम Pixel हैं।
  • इसी के साथ Google ने Google Home नाम की एक और सर्विस की शुरुआत किया। इस सर्विस के माध्यम से आप अपने घर में स्थित सभी इलेक्ट्रॉनिक डिवाइस को बोलकर के चला सकते हैं। और कुछ सवालों के जवाब भी इसके माध्यम से आप जान सकते हैं।
  • इसके बाद वर्ष 2017 में Google ने Google Lense नाम की एक और सर्विस की शुरुआत की, जिसके माध्यम से आप किसी भी चीज़ के फोटो को क्लिक करके Google Lense के माध्यम से उसके बारे जानकारी प्राप्त सकते हैं। Google Kya Hai? | Google Ka Malik Ka Kon Kya Hai



Google पैसे कैसे कमाता है ?

Google बहुत से तरीके से पैसा कमाता है आपके मन में ये सवाल भी जरूर आता होगा की Google आखिर पैसा कमाता कैसे है जबकि उसकी लगभग सभी चीज़े फ्री में यूजर के लिए मुहैया कराया है अगर ऐसा आप सोच रहे है तो आप गलत है Google सबसे ज्यादा पैसा कमाता है विज्ञापन के द्वारा जी हां आपके जब भी You Tube पर या किसी वेबसाइट या फिर किसी एप्लीकेशन को ओपन करते है उस पर आपको विज्ञापन दिखाई देता होगा Google सबसे ज्यादा उसी से पैसा कमाता है Google का एक प्रोडक्ट है Google Adwords जिस पर की अगर किसी कंपनी को अपने किसी भी प्रोडक्ट का प्रोमोशन  करवाना होता है तो वो Google Adwords के उसका विज्ञापन  देते है और Google उस विज्ञापन के दिखाने के लिए Google उस कंपनी से पैसे चार्ज करता है और उसे You Tube , Website और Application पर दिखाता है और भी बहुत से तरीके है जिससे Google पैसे कमाता है जैसे Google Meet इसमें आपको कुछ टाइम के लिए Free Meeting करने का टाइम होता है और अगर आप बहुत ज्यादा टाइम तक Meeting करना चाहते है तो Google इसके बदले पैसे चार्ज करता है

आपको पता ही होगा की एंड्राइड Google का एक प्रोडक्ट है जो की आज के टाइम सबसे ज्यादा एंड्राइड स्मार्टफोन का लोग इस्तेमाल करते है जिससे की Google की कमाई होती है और उससे जुड़े हुए उपकरण से भी Google कमाता है | Google Kya Hai? | Google Ka Malik Ka Kon Kya Hai के बारे मे बताने वाले है। Google Kya Hai? | Google Ka Malik Ka Kon Kya Hai

Google के कुछ और उसके प्रोडक्ट

Google के मिशन स्टेटमेंट में है लोगो के पास ज्यादा से जयदा जानकारी पहुचना है जिससे की आप सभी को पता होगा की कोई न कोई चीज़ किसी न किसी तक पहुंचाने के लिए किसी न किसी माध्यम की जरूरत होती है उसी तरह Google के भी कुछ प्रोडक्ट है जो की अलग अलग कुछ स्रोत है जिसके द्वारा Google हमारे तक वो जानकारी पहुँचता है आइये जानते है उसके बारे में एक एक करके

Search : इसका इस्तेमाल कर कोई इंटरनेट यूजर करता है किसी चीज़ को सर्च करने के लिए आप Google पर कोई भी चीज़े सर्च कर सकते है |

Chrome Browser :- ये एक ऐसा Browser है जो काफी Fast काम करता है और ये काफी secure Browser है इस ब्राउज़र का इस्तेमाल सबसे ज्यादा किया जाता है

Android :- ये दुनिया का सबसे जयदा इस्तेमाल किया जाने वाला OS है जो 100 में 95 लोगो के पास यही OS मिलेगा |

Blogger :- इसकी हेल्प से आप अपना एक खुद का ब्लॉग बना सकते है और अपना Thought लोगो तक पहुंचा सकते है ये बिल्कुल फ्री है |

Chrome OS :- लैपटॉप और कंप्यूटर के लिए ऑपरेटिंग सिस्टम

Gmail :- Electronic e-mail सेवा इससे आप अपने सन्देश को E-Format में भेज सकते है |

Google Pay :- इसका इस्तेमाल आप UPI ट्रांजेक्शन और बिल पैमेंट करने के किया जाता है जिससे आप कही भी कभी पैसे किसी को भी भेज सकते है |

Earth :- इसकी मदद से आप पूरी दुनिया घूम सकते है घर बैठे

Google Drive :- यहां पर आप अपना Data स्टोर करके रख सकते है और जब मन करे ये डाउनलोड भी कर सकते है

Book :- इसके इस्तेमाल से आप e-format में घर बैठे कोई भगी बुक पढ़ सकते है |

Google Play Store :- यहां से आप फ्री में एप्लीकेशन डाउनलोड कर सकते है |

Google TV :- यहां पर आप कोई भी movie देख सकते है |

Google Duo :- इसकी सहायता से आप अपने दोस्तों से Video Calling पर बात कर सकते है

Google Maps :- इसकी हेल्प से आप आप बड़ी आसानी से कही भी जाने का रास्ता ढूंढ़ सकते है |

Google AdSense ;- इसकी सहायता से आप अपने वेबसाइट या ब्लॉग या आ फिर You tube Channel या फिर Application को मोनेटाइज करा कर अच्छा पैसा कमा सकते है |

Google Ads :- इसकी सहायता से आप अपने बिज़नेस , शॉप या किसी प्रोडक्ट को Ads के द्वारा Promote करवा सकते है |

Google Translate :- Google ट्रांसलेट की हेल्प से आप 100 से ज्यादा लैंग्वेज को आप ट्रांसलेट कर सकते है

Google Now : – जैसे की आप Google में किसी जानकारी को सर्च करने के लिए इस्तेमाल करते है ठीक वैसे ही आप Google Now पर किसी भी बारे में सर्च करके जानकारी प्राप्त कर सकते है |

Google My Business :- Google Maps का इस्तेमाल करके आप Google My Business अपने बिज़नेस की जानकारी दे सकते है |

Google Docs :- माइक्रोसॉफ्ट ऑफिस डॉक्यूमेंट को ऑनलाइन खेलने के लिए Google Docs का इस्तेमाल किया जाता है

Wear OS :- यह एक Google का ही प्रोडक्ट है जिसकी हेल्प से आप ये पता लगा सकते है की आप कितने Fit और Healthy है

You Tube :- यू ट्यूब भी Google का एक प्रोडक्ट है जिसका इस्तेमाल फ्री में वीडियो देखने के लिए किया जाता है |

Google Sites :- आप Google Sites की मदद से Free में अपना Web Page बना सकते है। Google Sites सिर्फ Web Browser पर ही काम करता है| Google Kya Hai? | Google Ka Malik Ka Kon Kya Hai

Google पैसे कैसे कमाता है?

Google केवल YouTube और अन्य डिजिटल प्लेटफॉर्म पर विज्ञापन बेचकर पैसा नहीं कमाता है। वे Google .com, जीमेल, मैप्स और यूट्यूब सहित अपनी वेबसाइटों पर विज्ञापन देकर भी पैसा कमाते हैं। कंपनी अपना पैसा उस विज्ञापन राजस्व से बनाती है जो वह YouTube पर दिखाए गए विज्ञापनों से उत्पन्न करती है। यह अन्य वेबसाइटों पर दिखाए जाने वाले विज्ञापनों से उत्पन्न राजस्व में भी कटौती करता है जो अपने स्वयं के विज्ञापन अभियान चलाने के लिए Google की ऐडसेंस सेवा का उपयोग करते हैं। Google दुनिया का सबसे लोकप्रिय सर्च इंजन है और यह काफी समय से पैसा कमा रहा है। Google की राजस्व धाराएँ मुख्य रूप से विज्ञापन, हार्डवेयर बिक्री और लाइसेंसिंग से हैं।

Google का विज्ञापन व्यवसाय कंपनी के राजस्व का सबसे बड़ा स्रोत है। इसमें AdSense और DoubleClick AdExchange भी शामिल हैं जो विज्ञापनदाताओं को अपने ऑनलाइन विज्ञापन अभियान प्रबंधित करने की अनुमति देते हैं। कंपनी अपने स्मार्टफोन की पिक्सेल लाइन, Google होम स्मार्ट स्पीकर, क्रोमकास्ट स्ट्रीमिंग डिवाइस और अन्य गैजेट्स के माध्यम से अपनी हार्डवेयर बिक्री से महत्वपूर्ण राजस्व उत्पन्न करती है। कंपनी तीसरे पक्ष के एंड्रॉइड डिवाइस निर्माताओं से लाइसेंसिंग राजस्व अर्जित करती है जो इसे अपने उपकरणों पर Google Play Store ऐप स्टोर का उपयोग करने के लिए शुल्क का भुगतान करते हैं। Google Kya Hai? | Google Ka Malik Ka Kon Kya Hai के बारे मे बताने वाले है।

Google भारत में किस तरह पॉपुलर हुआ?

Google भारत में इतना ज्यादा popular होने के पीछे का मुख्य कारण है जिओ. जी आपने बिलकुल ही सही पढ़ा है. जब से JIO ने market में Free Internet Data प्रदान किया और बाद में भी काफी कम rates में internet प्रदान कर रहा है, इसलिए अब लोगों को internet browse करने के लिए की YouTube पर video देखने से पहले ज्यादा सोचना नहीं पड़ता है. वो बेझिझक इसका इस्तमाल कर सकते हैं.

एक समय ऐसा भी था जब हमे कोई भी Internet के कार्य करने के लिए Internet Cafe के ऊपर निर्भर होना पड़ता था. जो की हमसे अपने मन चाहे पैसे वसूलते थे. लेकिन अब समय बदल चूका है अब हमे कहीं जाने की जरुरत ही नहीं पड़ती है Internet इस्तमाल करने के लिए. अब आसानी से सभी कोई Google का इस्तमाल अपने जरूरत के सभी चीज़ों के लिए कर रहा है. इसलिए शायद Google को Google Uncle के नाम से ज्यादा जाना जाता है, क्यूंकि ये हमारे द्वारा पूछे गए किसी भी सवाल का जवाब बड़ी ही आसानी से दे देता है वो भी तुरंत. वहीँ इसके algorithms इतने ज्यादा advanced हैं की हमें अपने सवालों के उचित जवाब प्राप्त होते हैं वहीँ ज्यादा खोजने की जरुरत भी नहीं पड़ती है. दिनबदिन Google अपने users के लिए नई नई सेवाएं ला रहा है. हर साल ये कुछ न कुछ नयी सेवा जरूर लेकर आता है. इसलिए शायद Google केवल भारत में ही नहीं पूरी दुनिया में अच्छे तरीके से छा चूका है. Google Kya Hai? | Google Ka Malik Ka Kon Kya Hai के बारे मे बताने वाले है।

यह लेख भी पढ़ें –

आज हम ने सीखा

तो दोस्तों मेने आपको इस artical मे मेने Google Kya Hai? | Google Ka Malik Ka Kon Kya Hai के बारे मे बताया है।अगर आपको ये artical अच्छा लगा हो तो अपने दोस्तों के साथ जरुर शेयर करें |

“Google Kya Hai? | Google Ka Malik Ka Kon Kya Hai”

Leave a Reply