G20 क्या है और यह कैसे काम करता है
Spread the love

G20 क्या है और यह कैसे काम करता है-  ग्रुप ऑफ ट्वेंटी, जिसे आमतौर पर G20 के रूप में जाना जाता है, एक अंतरराष्ट्रीय संगठन है जो वैश्विक आर्थिक चुनौतियों के समाधान के लिए महत्वपूर्ण भूमिका निभाता है। इस लेख में, G20 क्या है और यह कैसे काम करता है हम G20 के बारे में चर्चा करेंगे, जानेंगे कि यह G20 क्या है और यह कैसे काम करता है , और वैश्विक परिदृश्य में इसकी प्रमुख कार्यों के बारे में जानेंगे।

G20 शिखर सम्मेलन प्रतिवर्ष आयोजित किया जाता है और यह सम्मेलन नेतृत्व के रूप में एक क्रमिक अध्यक्षता में होता है। प्रारंभ में, G20 सम्मेलन विशेष रूप से आर्थिक मुद्दों पर केंद्रित था, लेकिन बाद में इसने अपने एजेंडे को विस्तारित किया और अब इसमें व्यापार, जलवायु परिवर्तन, सतत विकास, स्वास्थ्य, कृषि, ऊर्जा, पर्यावरण, और भ्रष्टाचार-विरोध जैसे विभिन्न मुद्दों पर ध्यान केंद्रित किया जाता है।G20 क्या है और यह कैसे काम करता है



दोस्तों आपके मन में अत होगा की G20 क्या है और यह कैसे काम करता है यह जानकारी हम आपको देंगे|दोस्तों आज हम आपको बताएंगे की G20 क्या है और यह कैसे काम करता है!G20 की स्थापना 1999 में एशियाई वित्तीय संकट के बाद वित्त मंत्रियों और केंद्रीय बैंक के गवर्नरों के लिए वैश्विक आर्थिक और वित्तीय मुद्दों पर चर्चा करने के लिए एक मंच के रूप में की गई थी।

Contents

G20 क्या है और यह कैसे काम करता है|

G20 एक संगठन है जिसमें विकसित और विकासशील दोनों प्रकार की बीस प्रमुख अर्थव्यवस्थाओं के प्रतिनिधित्व होता है, और इसका उद्देश्य अंतरराष्ट्रीय आर्थिक नीति पर चर्चा और समन्वय करना है। इस संगठन की नींव 1999 में रखी गई थी, जब एशियाई वित्तीय संकट के समय इसके सदस्य देशों ने अपने बीच संवाद और सहयोग को बढ़ाने का निर्णय लिया। G20 में निम्नलिखित देश शामिल हैं: अर्जेंटीना, ऑस्ट्रेलिया, ब्राजील, कनाडा, चीन, फ्रांस, जर्मनी, भारत, इंडोनेशिया, इटली, जापान, मैक्सिको, रूस, सऊदी अरब, दक्षिण अफ्रीका, दक्षिण कोरिया, तुर्की, यूनाइटेड किंगडम, संयुक्त राज्य अमेरिका, और यूरोपीय संघ।G20 क्या है और यह कैसे काम करता है इससे हमे पता चलता है की G20 हमारे लिए कितना महत्वपूर्ण है

ग्रुप ऑफ ट्वेंटी (G20) अंतरराष्ट्रीय आर्थिक सहयोग का प्रमुख मंच है। यह सभी प्रमुख अंतरराष्ट्रीय आर्थिक मुद्दों पर वैश्विक संरचना और अधिशासन निर्धारित करने तथा उसे मजबूत करने में महत्वपूर्ण भूमिका निभाता है।G20 का गठन साल 1999 में हुआ था, इसे ग्रुप ऑफ ट्वेंटी भी कहा जाता है। यह यूरोपियन यूनियन और 19 अन्य देशों का एक अनौपचारिक समूह है। हर साल, G20 शिखर सम्मेलन में इसके नेता एकत्र आकर वैश्विक अर्थव्यवस्था को बढ़ावा देने की चर्चा करते हैं।दोस्तों आज हम आपको बताएंगे की क्या है G20 और यह कैसे काम करता है|

G20 क्या है और यह कैसे काम करता है? इसलिए हुआ था गठन

आज हम आपको बताएंगे की G20 क्या है और यह कैसे काम करता है शुरुआत में, यह संगठन वित्त मंत्रियों और केंद्रीय बैंकों के गवर्नरों का संगठन था। इसका पहला सम्मेलन दिसंबर 1999 में जर्मनी की राजधानी बर्लिन में हुआ था। आज आपको इस कंटैंट से पता चला है की  2008 में दुनिया ने भयानक मंदी का सामना किया था। इसके बाद, इसे शीर्ष नेताओं के संगठन में तब्दील कर दिया गया। इसके बाद, यह निर्धारित किया गया कि हर साल G20 राष्ट्रों के नेताओं की बैठक होगी।

प्रधानमंत्री किसान सम्मान निधि योजना 2023 

G 20 की कार्यशैली (G20 क्या है और यह कैसे काम करता है?)

G20 में दो समानांतर ट्रैक होते हैं: वित्त ट्रैक और शेरपा ट्रैक। शेरपा पक्ष के द्वारा G20 प्रक्रिया का समन्वय किया जाता है, और इसमें शेरपाओं द्वारा नेताओं के निजी प्रतिनिधित्व की जाती है। वित्त ट्रैक का नेतृत्व सदस्य देशों के वित्त मंत्री और सेंट्रल बैंक के गवर्नर करते हैं। दोनों ट्रैक के अंदर, कार्य समूह होते हैं G20 क्या है और यह कैसे काम करता है जिनमें सदस्यों के संबंधित मंत्रालयों के साथ आमंत्रित/अतिथि देशों और विभिन्न अंतरराष्ट्रीय संगठनों के प्रतिनिधि भाग लेते हैं।



G20 क्या है और यह कैसे काम करता है  वित्त ट्रैक मुख्य रूप से वित्त मंत्रालय के नेतृत्व में होता है और यह कार्य समूह हर अध्यक्षता के पूरे कार्यकाल में नियमित बैठकें करता है। शेरपा पूरे साल के दौरान हुई वार्ताओं का पर्यवेक्षण करते हैं और शिखर सम्मेलन के लिए एजेंडे पर चर्चा करते हैं।G20 क्या है और यह कैसे काम करता है G20 का मुख्य उद्देश्य आर्थिक सहयोग है, और इसमें शामिल देशों की कुल जीडीपी दुनियाभर के देशों की 80 फीसदी है।

G20 क्या है और यह कैसे काम करता है

 G20 क्या है और यह कैसे काम करता है? G20 में ये देश हैं शामिल

G20 क्या है और यह कैसे काम करता है अर्जेंटीना, ऑस्ट्रेलिया, ब्राजील, कनाडा, चीन, यूरोपियन यूनियन, फ्रांस, जर्मनी, भारत, इंडोनेशिया, इटली, जापान, मेक्सिको, रूस, सऊदी अरब, दक्षिण अफ्रीका, दक्षिण कोरिया, तुर्की, यूनाइटेड किंगडम और संयुक्त राज्य अमेरिका।

G20 क्या है और यह कैसे काम करता है ? भारत का विश्व मंचों पर वर्चस्व

  • भारत ने ब्रिटेन को पीछे छोड़कर पांचवीं सबसे बड़ी अर्थव्यवस्था बना ली।
  • भारत ने यूनाइटेड नेशंस सुरक्षा परिषद में अस्थायी सदस्य की स्थिति प्राप्त की।
  • यूएन सुरक्षा परिषद में सुधार की मांग पर रूस और अमेरिका ने समर्थन दिया।
  • भारत ने G20 और शंकराचार्य शांति संघ के अध्यक्ष की पदभार ग्रहण की।

भारत में होने वाले G20  की थीम क्या है?

G20 क्या है और यह कैसे काम करता है G20 क्या है और यह कैसे काम करता है भारत का G20 अध्यक्षता का विषय ‘वसुधैव कुटुंबकम’ या ‘एक पृथ्वी, एक कुटुंब, एक भविष्य’ है, जिसे महाउपनिषद के प्राचीन संस्कृत पाठ से लिया गया है

Mukhyamantri Digital Seva Yojana Rajasthan 2023 

G20 क्या है और यह कैसे काम करता है G20 के प्रमुख कार्य:

आर्थिक नीति समन्वय:

G20 क्या है और यह कैसे काम करता है जो सदस्य देशों के लिए आर्थिक नीतियों पर चर्चा और समन्वय करता है। यह समन्वय मुद्रा युद्ध, व्यापार संरक्षणवाद और अन्य क्रियाओं को रोकने में मदद करता है जो वैश्विक अर्थव्यवस्था को अस्थिर कर सकते हैं। 2008 के वित्तीय संकट के दौरान, G20 ने वैश्विक अर्थव्यवस्था को स्थिर करने के लिए प्रोत्साहन पैकेज और वित्तीय क्षेत्र के सुधारों के समन्वय में महत्वपूर्ण भूमिका निभाई।

वित्तीय स्थिरता:

इससे हमे पता चलता है की वित्तीय स्थिरता G20 क्या है और यह कैसे काम करता है G20 वित्तीय नियमों, सीमा पार वित्तीय प्रवाह, और वित्तीय संस्थानों की निगरानी जैसे मुद्दों को संबोधित करके वित्तीय स्थिरता को बढ़ावा देता है।  G20 क्या है और यह कैसे काम करता है इसने वैश्विक वित्तीय प्रणाली की स्थिरता की निगरानी और सिफारिशें करने के लिए वित्तीय स्थिरता बोर्ड (एफएसबी) की स्थापना की।

व्यापार और निवेश:

G20 क्या है और यह कैसे काम करता है G20 क्या है और यह कैसे काम करता है व्यापार और निवेश G20 के एजेंडे के केंद्र में हैं। सदस्य देश मुक्त और निष्पक्ष व्यापार को बढ़ावा देने, व्यापारिक बाधाओं को कम करने और निवेश को सुविधाजनक बनाने की दिशा में काम करते हैं। G20 शिखर सम्मेलन अक्सर नेताओं को व्यापार विवादों को संबोधित करने और बहुपक्षीय व्यापार वार्ता को बढ़ावा देने का अवसर प्रदान करते हैं।

विकास और समावेशिता:

G20 अपने एजेंडे में विकास और समावेशिता के महत्व को पहचानता है। यह गरीबी में कमी, सतत विकास, शिक्षा, और स्वास्थ्य देखभाल जैसे मुद्दों को संबोधित करता है। कॉम्पैक्ट विथ आफ्रिका जैसी पहल का उद्देश्य अफ्रीकी देशों में निवेश के माहौल में सुधार करना और आर्थिक विकास को बढ़ावा देना है।



G20 क्या है ? G20 कैसे काम करता है?

G20 बैठकों की एक श्रृंखला के माध्यम से संचालित होता है, जिसमें वार्षिक शिखर सम्मेलन, वित्त मंत्रियों की बैठकें, और कार्य समूह चर्चाएँ शामिल हैं। इस प्रक्रिया के माध्यम से, बिना देशों के बीच विशेष समझौते के, विभिन्न अर्थव्यवस्थाओं के नेताओं के बीच आर्थिक मुद्दों पर चर्चा और समन्वय की जाती है।

नेताओं का शिखर सम्मेलन:

G20 क्या है और यह कैसे काम करता है सबसे हाई-प्रोफाइल कार्यक्रम वार्षिकG20 नेताओं का शिखर सम्मेलन है, जहां राज्य और सरकार के प्रमुख प्रमुख वैश्विक मुद्दों पर चर्चा करने और निर्णय लेने के लिए इकट्ठा होते हैं।G20 क्या है और यह कैसे काम करता है  इन नेताओं का औपचारिक और अनौपचारिक चर्चाओं में भाग लेना, संयुक्त विज्ञप्ति जारी करना और G20 के काम का एजेंडा तय करना इस सम्मेलन का महत्वपूर्ण हिस्सा होता है।

ThopTV APK Download Latest Version v50.8.0 (2023)

वित्त मंत्री और केंद्रीय बैंक गवर्नर:

G20 क्या है और यह कैसे काम करता है वित्त मंत्री और केंद्रीय बैंक गवर्नर आर्थिक और वित्तीय मामलों पर चर्चा करने के लिए समय-समय पर मिलते हैं और वे नेताओं के शिखर सम्मेलन के लिए नीतिगत सिफारिशें तैयार करते हैं। इन बैठकों में राजकोषीय नीति, मौद्रिक नीति, और अंतर्राष्ट्रीय वित्तीय स्थिरता जैसे विषयों पर चर्चा की जाती है।आज आपको इस से पता चला है की G20 क्या है और यह कैसे काम करता है

G20 क्या है और यह कैसे काम करता है? कामकाजी समूह:

G20 क्या है और यह कैसे काम करता है G20 विभिन्न कार्य समूहों के माध्यम से संचालित होता है, जो कृषि, ऊर्जा, और जलवायु परिवर्तन जैसे विशिष्ट मुद्दों पर ध्यान केंद्रित करते हैं। इन समूहों के भीतर, सदस्य देशों के विशेषज्ञ और अधिकारी नीतियों और सिफारिशों को विकसित करने के लिए सहयोग करते हैं।

ऐसा है G20  का लोगो

G20 क्या है और यह कैसे काम करता है

  • G20 का ध्वज भारत के राष्ट्रीय ध्वज के जीवंत रंगों, जैसे कि केसरिया, सफेद, हरा, और नीला, से प्रेरित है।
  • इसमें भारत के राष्ट्रीय पुष्प कमल का प्रतिष्ठान है, जो चुनौतियों के बीच विकास की प्रतीक्षा करता है।

G20 क्या है और यह कैसे काम करता है?अगली अध्यक्षता किस देश के पास?

G20 क्या है और यह कैसे काम करता है

  • इस समूह का कोई स्थायी सचिवालय नहीं है।
  • इसकी अध्यक्षता ट्रोइका द्वारा समर्थित होती है, जिसमें पिछले, वर्तमान, और आने वाले अध्यक्ष (ट्रोइका) शामिल होते हैं। भारत की अध्यक्षता के दौरान ट्रोइका में इंडोनेशिया (पूर्व अध्यक्ष), भारत (वर्तमान अध्यक्ष), और ब्राजील (वर्ष 2024 में अध्यक्षता) शामिल होंगे।

G 20 की बैठक से क्या फ़ायदा?

आख़िर में, इस जी20 की बैठक से हमें और आपको क्या फ़ायदा हो सकता है, यह एक महत्वपूर्ण सवाल है।G20 क्या है और यह कैसे काम करता है|

हमने समझ लिया है कि यह एक मज़बूत संघ है जिसमें शक्तिशाली देशों का समूह है। G20 क्या है और यह कैसे काम करता है इस सम्मेलन के दौरान लिए गए फ़ैसलों को कानूनी बाध्यता की दृष्टि से मानने की कोई आवश्यकता नहीं होती है, लेकिन ये फ़ैसले आर्थिक रूप से प्रभावी हो सकते हैं, विशेषकर उन देशों के लिए जो इस समूह के सदस्य हैं।G20 क्या है और यह कैसे काम करता है

बैठक के अंत में, जी20 देशों के साझा बयान पर आम सहमति भी बनती है, और इसकी ज़िम्मेदारी आमतौर पर अध्यक्ष देश के पास होती है। भारत भी इसके लिए कठिन से कठिन कोशिश कर रहा है कि वह बैठक के दौरान जी20 के साथ एक साझा बयान पर आम सहमति प्राप्त कर सके, जिससे विश्व व्यापार पर भी सकारात्मक प्रभाव पड़ सकता है।

G20 क्या है और यह कैसे काम करता है? G 20 कितना ताक़तवर ग्रुप है?

G20 क्या है और यह कैसे काम करता है यह ग्रुप वाकई महत्वपूर्ण है, और इसके सदस्य देशों की सूची से ही उसकी महत्वपूर्ण भूमिका स्पष्ट हो जाती है। जी20 ग्रुप में 19 देश हैं, जिनमें अर्जेंटीना, ऑस्ट्रेलिया, ब्राज़ील, कनाडा, चीन, फ़्रांस, जर्मनी, भारत, इंडोनेशिया, इटली, जापान, रिपब्लिक ऑफ़ कोरिया, मेक्सिको, रूस, सऊदी अरब, दक्षिण अफ्रीका, तुर्की, यूनाइटेड किंगडम और अमेरिका शामिल हैं।

G20 क्या है और यह कैसे काम करता है इसके साथ ही, यूरोपियन यूनियन भी इस ग्रुप का 20वां सदस्य है, जिससे यूरोप के देशों का मज़बूत समूह इस सममेलन का हिस्सा बनता है।G20 की स्थापना 1999 में एशियाई वित्तीय संकट के बाद वित्त मंत्रियों और केंद्रीय बैंक के गवर्नरों के लिए वैश्विक आर्थिक और वित्तीय मुद्दों पर चर्चा करने के लिए एक मंच के रूप में की गई थी।




G20 क्या है और यह कैसे काम करता है इसके अलावा, प्रत्येक बार अध्यक्ष देश अन्य देशों और संगठनों को भी आमंत्रित करता है,G20 क्या है और यह कैसे काम करता है  जैसे कि इस बार भारत ने बांग्लादेश, मिस्र, मॉरीशिस, नीदरलैंड्स, नाइजीरिया, ओमान, सिंगापुर, स्पेन और यूएई को बुलाया है। इसका मतलब है कि यह सममेलन एक ग्लोबल प्लेटफ़ॉर्म है, जिसमें विश्व के विभिन्न क्षेत्रों के प्रतिनिधित्व होता है।G20 क्या है और यह कैसे काम करता है हमारे लिए कितना महत्वपूर्ण है !आज आपको इस कंटैंट से पता चला है की G20 क्या है और यह कैसे काम करता है

G20 क्या है और यह कैसे काम करता है जी20 की सदस्यता से जुड़े देशों का समूचा जीडीपी का 85%, ग्लोबल ट्रेड का 75%, और दुनिया की 2/3 आबादी का प्रतिनिधित्व होता है। इसलिए, इस सममेलन में लिए गए फ़ैसले विश्व इकोनॉमी पर महत्वपूर्ण प्रभाव डाल सकते हैं और दुनिया के अर्थव्यवस्था में बदलाव ला सकते हैं।

G20 क्या है और यह कैसे काम करता है के इस कंटेंट को पड़ने के लिए धन्यवाद !!

 

Similar Posts

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *