Cryptocurrency Kya Hai , Cryptocurrency क्या है? , What is Cryptocurrency? , Cryptocurrency का इतिहास , History Of Cryptocurrency , Cryptocurrency के प्रकार , How Many Types of Cryptocurrency , Top Cryptocurrency , Bitcoin , Ethereum Ether , Ripple XRP , Litecoin , Cardano , Cryptocurrency कहां से खरीदें , Cryptocurrency के फायदे , Cryptocurrecy से नुकसान , cryptocurrency price , cryptocurrency in india , cryptocurrency to invest in , cryptocurrency list , cryptocurrency for beginners , cryptocurrency news , cryptocurrency investment , cryptocurrency exchange , क्रिप्टो करेंसी कहां से खरीदें , क्रिप्टो करेंसी का भविष्य क्या है , क्रिप्टो-करेंसी क्या है drishti ias , क्रिप्टो करेंसी भारत , कौन सी क्रिप्टोकरेंसी खरीदनी चाहिए , क्रिप्टो करेंसी रेट , क्रिप्टो करेंसी लिस्ट , क्रिप्टो करेंसी में कैसे निवेश करें
Spread the love

Cryptocurrency Kya Hai? Cryptocurrency कहां से खरीदें Hello दोस्तों स्वागत है आपका Techysir.com के इस नए पोस्ट मैं जिसमें आप जानेंगे की Cryptocurrency क्या है? Cryptocurrency कहां से खरीदें इस पोस्ट को पढ़कर आपको कही और जाने की जरूरत नही है क्योंकि आज मैं आपको Cryptocurrency क्या है? Related सब Points Clear करूंगा.उसके लिए बस आपको इस पोस्ट को Last तक पढना है |



Cryptocurrency Kya Hai? | What is Cryptocurrency in Hindi?

Cryptocurrency एक तरह की Digital Currency होती है जिस पर Government का कोई हस्तक्षेप नही होता है क्योकि ये Decentralized Currency है। इसकी कीमत बढ़ती घटती रहती है। Cryptocurrency का इस्तेमाल हम सामान खरीदने से लेकर कोई सर्विस लेने के लिए कर सकते है इसमे एक जगह से दुसरी जगह Currency Transfer कर सकते है इसमे आसानी से पैसे छिपाए जा सकते है और तो और इस तरह की currency से बहुत फायदा भी है।

जैसा कि आप जान चुके होंगे की Cryptocurrency क्या है, मगर अब भी आपके दिमाग मे यही घूम रहा होगा की Cryptocurrency काम कैसे करती है। इसके लिए आपको Internet की जरूरत पड़ेगी और आपके Account मे जितने पैसे होंगे उतने ही आप खर्च कर सकेंगे जिस तरह से Credit Card होता है लेकिन इसमे कोई भी पैसा हाथ मे नही होगा केवल Account to Account ही आप Transfer कर सकेंगे। फिलहाल Cryptocurrency के Coins होते जो अलग-अलग Companies के द्वारा बनाए जाते है, और इसकी शुरूआत से लेकर अब तक लगभग 1000 से भी ज्यादा ऐसी currencies बन चुकी है |

Read More :- Top Cryptocurrency Price Today

Cryptocurrency का इतिहास | History Of Cryptocurrency

Cryptocurrency का इतिहास सबसे पहले 2008 में शुरू हुआ, जब एक व्यक्ति या समूह जो कि “Satoshi Nakamoto” नाम से जाना जाता है, एक प्रकाशित प्रस्ताव को प्रकाशित किया। यह प्रस्ताव बीटकोइन को बताता था, जो की क्रिप्टोग्राफिक प्रोटोकॉल का उपयोग करके संचालित किया जाने वाला पहला क्रिप्टोकरेंसी था। बीटकोइन की मुद्रा की शुरुआत में कुछ समय के बाद, अन्य क्रिप्टोकरेंसी के रूप में लीट्सकोइन, रेपेल, एंड अन्य शुरू हुए। समय के साथ क्रिप्टोकरेंसी की क्षेत्र में अधिक समय से अधिक समय से बढ़ता हुआ और अब काफी समृद्ध क्षेत्र है।




Cryptocurrency के प्रकार | How Many Types of Cryptocurrency

तात्कालिक समय में लगभग 1000 क्रिप्टोकरेंसी मौजूद हैं, किन्तु इसमें से कुछ ऐसे हैं, जिसका प्रयोग बहुत अधिक होता है. यहाँ पर महत्वपूर्ण क्रिप्टोकरेंसी का वर्णन किया जा रहा है.

  • ईथर और ईथरम : इसका प्रयोग इंटरचेंज करेंसी के रूप में किया जाता है. ईथर एक तरह का टोकन होता है. इसका प्रयोग ईथरम ब्लाक चैन के अंतर्गत लेनदेन के लिए किया जाता है.
  • लाइटकॉइन : इसका अविष्कार वर्ष 2011 में हुआ था. यह भी नामित कॉइन की ही तरह डीसेंट्रलाइज्ड तकनीक की सहायता से कार्य करता है. इसकी सहायता से बिटकॉइन अधिक तेज़ कार्य होता है.
  • डैश : वर्ष 2014 में डैश क्रिप्टोकरेंसी का आविष्कार हुआ था. इसके आरम्भ में इसे डार्क कॉइन के नाम से जाना जाता था. यह ‘मास्टरनोड’ नामक नेटवर्क की सहायता से कार्य करता है. यह नेटवर्क बिटकॉइन से अधिक तेज़ और प्रभावशाली है.
  • जेड कैश : इसका आविर्भाव अक्टूबर 2016 में हुआ था. यह इस क्षेत्र में एक नयी तरह की करेंसी है. इसके प्रयोग के दौरान सारे इनफार्मेशन एन्क्रिप्ट हो जाते है, फिर भी इसका प्रयोग ‘डबल स्पेंड’ के लिए नहीं किया जा सकता है.
  • मोनेरो : यह भी एक विशेष तरह की क्रिप्टोकरेंसी है. इसमें विशेष तरह की सिक्यूरिटी का प्रयोग किया जाता है, जिसका नाम रिंग सिग्नेचर होता है. यह ‘डार्क वेब ब्लैक मार्केट’ में बहुत अधिक होता है. इसकी सहयता से स्मग्लिंग की जाती है. अतः इसके प्रयोग से कालाबाजारी आसान हो जाती है.

Top Cryptocurrency

वैसे तो कई Cryptocurrency है जो कि Online इस्तेमाल की जाती है। परंतु कुछ ऐसी Cryptocurrency है जो World Wide बहुत ज्यादा Famous  है।

Bitcoin

सबसे पहले टॉप पर Bitcoin है. साल 2020 से ही Bitcoin में जबरदस्त तेजी देखी गई है. इसका मार्केट कैप करीब 1,084,798,217,674 डॉलर है. क्रिप्टोकरेंसी में Bitcoin सबसे ज्यादा महंगी और सबसे ज्यादा पॉपुलर है.

Ethereum (Ether)

इसके बाद दूसरे नंबर पर इथीरियम है. दरअसल Ethereum ब्लॉकचेन प्लेटफॉर्म का नाम है और इसके क्रिप्टो कॉइन का नाम Ether है. यह एक यूटिलिटी क्रिप्टोकरेंसी है, जिसे Ethereum प्लेटफॉर्म को इस्तेमाल करने के लिए भुगतान के रूप में दिया जाता है. इथीरियम का मार्केट कैप करीब 452,903,799,695 डॉलर है.

Ripple XRP

तीसरे नंबर पर Ripple (XRP) को रख सकते हैं. अभी तक यह काफी सुरक्षित यूटिलिटी कॉइन माना गया है और शुरुआत से इसे कई बैंक का सपोर्ट भी मिला है. Ripple के ब्लॉकचेन प्लेटफॉर्म पर बनी कई ट्रांस्फर सर्विस ने पिछले कुछ सालों में काफी ग्रो किया है.

Litecoin

Litecoin Bitcoin को पूरी तरह से टक्कर देता है. इस कॉइन को डेली लाइफ में भुगतान के लिए Bitcoin से ज्यादा बेहतर माना जाता है.

Cardano

इस कॉइन से पिछले कुछ समय में निवेशकों को काफी खुश किया है और एक्सपर्ट्स का मानना है कि यह भविष्य में काफी अच्छा परफॉर्म कर सकता है.



Cryptocurrency कहां से खरीदें

क्रिप्टोकरेंसी को खरीदने के लिए, आप कुछ ऑनलाइन क्रिप्टोकरेंसी एक्सचेंज (cryptocurrency exchange) का उपयोग कर सकते हैं। ये साइटें आपको कुछ स्थानों पर बिटकॉइन, एथरेयन, रीप्लक इत्यादि को खरीदने के लिए मजबूत करती है। सुझाव के लिए,

कुछ प्रमुख क्रिप्टो करेंसी खरीदने बेचने वाली ऑनलाइन वेबसाइट के बारे में हम आगे बता रहे हैं. इन सभी वेबसाइट पर आप अपना अकाउंट बनाकर क्रिप्टो करेंसी खरीद या बेच सकते हैं. इनमें से कुछ ने अपना मोबाइल ऐप भी लॉंच कर रखा है, जिसे इंस्टॉल करके आप अपने मोबाइल से भी क्रिप्टो करेंसी में निवेश कर सकते हैं.

1. कॉइनस्विच (CoinSwitch)
2. वजीरएक्स (Wazirx)
3. यूनोकॉइन (Unocoin)
4. जेबपे (Zebpay)
5. कॉइनबॉक्स (Coinbox)
6. बीटीसीएक्सइंडिया (BTCxIndia)
7. लोकलबिटकॉइन (LocalBitcoin)

Cryptocurrency के फायदे 

  • क्रिप्टोकरेंसी में जो भी लेनदेन किया जाता हैं वह सब कुछ ऑनलाइन मोड में होता हैं, साथ ही इसमें सुरक्षा बहुत मजबूत ही होती हैं, क्योंकि इसमें जिस तकनीक का उपयोग किया जाता हैं, वह विशेष प्रकार की सिक्यूरिटी वाली तकनीक होती हैं, इसलिए इसमें धोखाधड़ी की संभावनाएं बहुत ही कम होती है. और न ही कोई व्यक्ति इसे हैक कर पाता हैं.
  • क्रिप्टोकरेंसी के माध्यम से किया जाने वाला लेनदेन और आप जो नॉर्मल लेनदेन करते हैं दोनों में अंतर होता हैं, क्योंकि क्रिप्टोकरेंसी में किया जाने वाला लेनदेन बहुत ही कड़ी निगरानी में एवं सुरक्षित तरीके से किया जाता हैं.
  • आपके द्वारा क्रेडिट कार्ड से भुगतान किये जाने पर प्रत्येक भुगतान पर आपको अतिरिक्त चार्ज अधिक देना पड़ता हैं, लेकिन क्रिप्टोकरेंसी इसके लिए लाभकारी होगी, क्योंकि इससे एक तो आप अधिक मात्रा में किसी को भुगतान कर रहे हैं तो वह भी हो जायेगा और साथ ही इसमें लेनदेन का चार्ज भी क्रेडिट कार्ड की तुलना में बहुत कम होता है.

इन्हीं सब फायदों के कारण क्रिप्टोकरेंसी आज के समय में लोगों के लिए बहुत ही अच्छा विकल्प बनी हुई हैं.

Cryptocurrency से नुकसान 

किसी भी चीज की जहां खासियत होती हैं तो वहां इसमें कुछ कमी भी जरुर होती हैं, ठीक ऐसा ही क्रिप्टोकरेंसी में भी हैं. जी हां क्रिप्टोकरेंसी के फायदे तो हैं ही लेकिन अभी इसमें कुछ कमियां भी हैं जैसे –

  • क्रिप्टोकरेंसी में अभी एक कमी यह हैं कि इसमें अभी ऐसी तकनीक नहीं आई हैं कि यदि आपसे किसी कारण से गलती से किसी को भुगतान हो जाता हैं तो आप इसे वापस नहीं ले सकते हैं.
  • सबसे बड़ी कमी जो क्रिप्टोकरेंसी में हैं वह हैं वॉलेट आईडी का दोबारा न मिलना. यानि कि एक बार यदि आपने अपनी वॉलेट की आईडी खो दी, तो फिर आप क्रिप्टोकरेंसी अकाउंट को भूल ही जाइये क्योंकि यह दोबारा कभी नहीं मिल सकती हैं. और साथ ही वॉलेट आईडी खो जाने के बाद आप उसमें से आपके बचे हुए पैसे भी कभी नहीं निकाल पाएंगे. अतः आप उसे हमेशा के लिए खो देंगे.



आज हम ने सीखा

तो दोस्तों मेने आपको इस article मे मेने Cryptocurrency क्या है? Cryptocurrency कहां से खरीदें के बारे मे बताया है।अगर आपको ये article अच्छा लगा हो तो अपने दोस्तों के साथ जरुर शेयर करें |

“ Cryptocurrency Kya Hai ? Cryptocurrency कहां से खरीदें ”

Similar Posts

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *